New margin rules क्या है ? SEBI new margin rules in Hindi – Share Market के नए नियम | Buy/Sell

SEBI new margin rules in Hindi – New margin rules kya hai ,Peak margin kya hai – Peak margin in Hindiदोस्तों हाल ही में Share market  के द्वारा निवेशकों को होने वाले नुकसान को देखते हुए  SEBI ने भारतीय शेयर मार्केट पर नए मार्जिन नियम लागू कर दिए हैं CB new merchant rules in Hindi  , से भारतीय Share market  में Investors  और ट्रेडर्स पर व्यापक असर पड़ने वाला है

शेयर मार्केट में जितने भी नियम बनाया जाते हैं वह सभी निवेशक हो और ट्रेडर्स के हितों को ध्यान में रखते हुए एक बनाए जाते हैं जिससे उनके अधिकारों की सुरक्षा हो और उन्हें भारतीय शेयर मार्केट में एक अच्छा माहौल मिल सके 

दोस्तों यदि आप भी जानना चाहते हो कि Peak margin kya hai – Peak margin in Hindi   ,  SEBI new margin rules in Hindi  , SEBI  के द्वारा नए नियम लागू करने से भारतीय Share market  पर क्या असर होने वाला है और इन्वेस्टर तथा ट्रेडर्स को क्या लाभ होने वाले हैं और क्या नुकसान होने वाले हैं तो इस आर्टिकल को शुरू से लेकर अंत तक अवश्य पढ़ें 

New margin rules क्या है ? SEBI new margin rules in Hindi - Share Market के नए नियम | Buy/Sell

 

SEBI new margin rules in Hindi – New margin rules kya hai 

SEBI new margin rules in Hindi  –  दोस्तों अब भारतीय शेयर मार्केट में थोड़ी बहुत बदलाव हो चुके हैं  और SEBI new margin rules के द्वारा कुछ निम्नलिखित बदलाव किए गए हैं चली जानते हैं 

नए नियम अनुसार SEBI  के द्वारा पीक मार्जिन के नियमों में बदलाव किए गए हैं 1 सितंबर से ट्रेडिंग के लिए 100 फ़ीसदी मार्जिन अपफ्रंट रखने की आवश्यकता होगी इससे पहले केवल 75% मार्जिन अपफ्रंट  रखने की आवश्यकता थी 

 

SEBI New Margin Rules List in Hindi – सेबी के नए मार्जिन नियम 

  1. Share को खरीदने / बेचने में कम लाभ
  2. स्टॉक एक्सचेंज का Shares पर नियंत्रण
  3. उसी दिन intraday trading के profit के लाभ का उपयोग नहीं कर सकते
  4. T+2 Settlement Time के बाद ही Share खरीदें और बैच सकेंगे
  5. 20% पैसा निवेश का नकद Demat account में होना अनिवार्य है

SEBI new margin rules से ट्रेडर्स पर असर 

इसका मतलब यह है कि पोजीशनल ट्रेडिंग और इंट्राडे ट्रेडिंग करने वाली के लिए 100 फ़ीसदी मार्जिन की आवश्यकता होगी 

फ्यूचर एंड ऑप्शन ट्रेडिंग करने वालों को भी 100 फ़ीसदी मार्जिन अपफ्रंट रखने की आवश्यकता होगी इससे  पहले केवल 75% मार्जिन फ्रंट रखने की आवश्यकता होती थी

       सामान्य शब्दों में कहा जाए तो भारतीय शेयर मार्केट में कोई भी ट्रेडर 2000000 रुपए के Nifty  कॉन्ट्रैक्ट लेना चाहता है तो उसे 20% मार्जिन मनी जो कि लगभग ₹4 लाख रुपए अपने ट्रेडिंग अकाउंट में रखनी होगी जबकि उसे पहले सिर्फ 15% रखनी होती थी 

 

Peak margin kya hai – What is peak margin in Hindi 

Peak margin meaning in Hindi –  peak margin  दोस्तों पिछले साल तक Trading session अंत में मार्जिन मनी वसूला जाता था उसके हिसाब से यदि आपने फ्यूचर एंड ऑप्शन में एक करोड़ रुपए इन्वेस्टमेंट किया है तो आप उस ट्रेडिंग सेशन में एक करोड रुपए और भी इन्वेस्टमेंट कर सकते थे इस 10000000 रुपए पर कोई भी मार्जिन नहीं देना होता  था 

जबकि नए नियम अनुसार यदि  आपके द्वारा इन्वेस्टमेंट किए गए उन  1  करोड रुपए के ऊपर भी आपको मार्जिन देना होगा इसके साथ अतिरिक्त 10000000 रुपए किए गए इन्वेस्टमेंट के ऊपर भी आपको मार्जिन देना होगा 

 

Peak margin System In Hindi – Peak margin System लागू कब से हुआ 

Peak margin System in hindi – दोस्तों  SEBI के द्वारा Peak margin System को पिछले साल सितंबर में ही लागू कर दिया गया था  Peak margin System के पहले चरण में 1 करोड रुपए के ऊपर लगभग 25% मार्जिन वसूला गया सेकंड में 50 तथा तृतीय में 75% और अब 100% मार्जिन वसूला जा रहा है इसका चौथा चरण 1 सितंबर 2021 से लागू किया गया है 

 

SEBI के द्वारा margin rule बदलाव क्यों किए गए 

दोस्तों आज भारतीय शेयर मार्केट विश्व का छठवां सबसे बड़ा शेयर मार्केट बन चुका है इसमें नए-नए इन्वेस्टर्स और ट्रेडर्स आ रहे हैं तथा भारतीय शेयर मार्केट के पहलू भी बदलते  जा रहे हैं इसलिए भारतीय शेयर मार्केट  के बदलते पहलुओं को देखकर margin rules बदलाव किया तथा 

SEBI के द्वारा रिस्क मैनेजमेंट फ्रेमवर्क का निर्माण किया गया इसी फ्रेमवर्क के निर्माण के लिए रिस्क मैनेजमेंट रिव्यू कमेटी के साथ में SEBI ने  सलाह मशवरा किया हालांकि शेयर मार्केट में ब्रोकर्स का संगठन ANMI इससे खुश नहीं है स्टॉक ब्रोकर्स संगठन इस नियम में कई सारे बदलाव करने की मांग कर रहे हैं 

 

Conclusion 

दोस्तों अभी तक आपने जाना है कि SEBI new margin rules in Hindi ,Peak margin kya hai – Peak margin in Hindi   ,  SEBI new margin rules in Hindi 

आशा करता हूं कि आपको यह लेख अच्छा लगा होगा और इससे आपको पर्याप्त जानकारी मिली होगी फ्री आप इसमें अपनी राय रखना चाहते हो तो नीचे कमेंट बॉक्स में कमेंट अवश्य करें और इसे अपने दोस्तों व्हाट्सएप ग्रुप से और फेसबुक पर शेयर अवश्य करें 

About Dhirendra singh

मेरा नाम Dhirendra Singh Bisht है और मैं इस Technet ME फाउंडर और owner हूं , दोस्तों मैंने अभी अपनी डिग्री पूरी की है और मुझे लोगों की समस्याओं का हल करना अच्छा लगता है और मुझे लोगों को नई नई चीजें सिखाने में और Technology Business Banking ,Marketing के बारे में अच्छी जानकारी है

Leave a Comment