SEBI kya hai – सेबी क्या है | कार्य | स्थापना | अधिकार | उद्देश्य | SEBI Full Form in Hindi

SEBI kya hai In Hindi – Securities and exchange Board of India in Hindi, SEBI  meaning in Hindi ,SEBI  full form in Hindi   –  दोस्तों यदि आप शेयर मार्केट में इन्वेस्ट करते हो तो आपने Sebi  का नाम जरूर सुना होगा यदि आप शेयर मार्केट में इन्वेस्ट करने के बारे में सोच रहे हो तो आपको SEBI (Securities and exchange Board of India in Hindi ) का नाम अवश्य सुनने में आएगा  दोस्तों आपको सभी के बारे में जानना बहुत ही आवश्यक है सेबी क्या है इन हिंदी सेबी के कार्य कैसे 

दोस्तों देश में हर प्रकार के व्यापार की निगरानी करने के लिए अलग अलग संस्था होती है ऐसे ही भारत देश के शेयर मार्केट की निगरानी रखने के लिए एक मजबूत संस्था की आवश्यकता बहुत ही पहले से थी हालांकि इसकी स्थापना 1990  के बाद में हुई थी इसका प्रमुख उद्देश्य शेयर मार्केट में निगरानी रखना था जिससे कि कोई घोटाला ना कर पाए और सभी अपनी कार्य सीमा में कार्य करते रहें

दोस्तों आप इस लेख को शुरू से लेकर अंत तक अवश्य पढ़ें इसमें आप जानने वाले हो कि SEBI kya hai in Hindi , Sebi  किस प्रकार कार्य करता है, SEBI meaning in Hindi , SEBI  full form in Hindi , SEBI  के अध्यक्ष  , चलिए शुरू करते हैं 

 

SEBI kya hai - सेबी क्या है | कार्य | स्थापना | अधिकार | उद्देश्य | SEBI Full Form in Hindi

विषय सूची

SEBI (Securities and exchange Board of India) क्या है – SEBI kya hai – सेबी क्या है

दोस्तों बाजार में किसी भी व्यापार को संचालित करने के लिए सरकार के द्वारा एक संस्था बनाई जाती है ऐसी ही SEBI  भी एक संस्था है जो कि भारतीय शेयर मार्केट को संचालित करती है और उसे दिशा निर्देश देती है 

सामान्य शब्दों में कह सकते हैं कि SEBI  एक ऐसी संस्था है जो कि भारतीय शेयर मार्केट को नियंत्रित करती है और  भारतीय शेयर मार्केट SEBI  के अंतर्गत अपना कार्य करता है जैसे कि सभी भारतीय बैंकों को आरबीआई नियंत्रित करता है ऐसे ही भारत के सभी स्टॉक एक्सचेंज और शेयर मार्केट को SEBI  नियंत्रित करता है या मॉनिटर करता है

SEBI की स्थापना से पहले भारतीय शेयर बाजार में कई प्रकार के धांधली तथा स्कैम हो चुके थे जैसे हर्षद मेहता स्कैम और और अन्य स्कैम्स उसके थे जिसको देखते हुए भारतीय सरकार ने SEBI  की स्थापना का निश्चय किया और इसकी स्थापना की गई 

 SEBI meaning in Hindi  – SEBI meaning 

SEBI  meaning in Hindi – दोस्तों  SEBI – Securities exchange Board of India इसे हिंदी में – “ भारतीय प्रतिभूति और विनियम बोर्ड ” कहते हैं   एक सरकार के द्वारा स्थापित संस्था है  जो कि सभी  stock exchange के ट्रांजैक्शन को रेगुलेट करती है तथा पूरा करवाती है  और उन पर नजर रखकर उन को नियंत्रित करती है तथा दिशा निर्देश देती है 

SEBI full form in hindi  –  SEBI full form 

SEBI  full form in Hindi – दोस्तों  SEBI  ka full form – Security exchange Board of India है  – इसे हिंदी में भारतीय प्रतिभूति और विनियम बोर्ड कहते हैं यह बिल्कुल यूएस के सिक्योरिटीज एंड एक्सचेंज कमिशन के समान है (Sec) 

SEBI को स्थापित  करने का मुख्य उद्देश्य भारतीय शेयर बाजार में निवेशकों को सुरक्षा प्रदान करना और उनके हितों की रक्षा करना तथा भारतीय शेयर मार्केट को नियंत्रित करना है 

 

SEBI  का पूरा नाम क्या है – SEBI  Pura naam 

 SEBI का पूरा नाम  – Security exchange Board of India  या भारतीय प्रतिभूति और विनियम बोर्ड है SEBI यह भारतीय सरकार के अंतर्गत कार्यरत होती है 

 

SEBI  की स्थापना कब हुई थी  – SEBI Established 

दोस्तों SEBI  की स्थापना –  SEBI Establishment in Hindi – भारत सरकार की तरफ से सन 1988 में हो चुकी थी

लेकिन SEBI को सन 1992 के Securities and exchange Board of India Act 1992 के अंतर्गत आधिकारिक मान्यता मिली अतः SEBI  की स्थापना –  12 अप्रैल 1992 को हुई थी 

 

SEBI  का मुख्यालय कहां है – SEBI  Headquarter In Hindi 

SEBI  का मुख्यालय – SEBI  Headquarter In Hindi , महाराष्ट्र के मुंबई में बांद्रा कुर्ला में स्थित है SEBI   के क्षेत्रीय Headquarters  क्रमशः न्यू दिल्ली कोलकाता, चेन्नई ,तथा अहमदाबाद में स्थित है 

SEBI  के प्रथम अध्यक्ष कौन थे – First SEBI  present in Hindi 

First SEBI president – SEBI के प्रथम अध्यक्ष – GV  Ramakrishna थे 

जोकि सन 1991 के बाद बने थे जब SEBI   को अधिकारिक तौर पर मान्यता मिली 

SEBI  के अध्यक्ष की नियुक्ति कौन करता है – SEBI   president elect 

SEBI  के अध्यक्ष की नियुक्ति  – दोस्तों SEBI  के अध्यक्ष की नियुक्ति भारतीय केंद्र सरकार करती है यह  भारत के राष्ट्रपति के द्वारा  नियुक्त किया जाता है SEBI  एक नियामक संस्था है जो कि भारतीय शेयर मार्केट को नियंत्रित करती है 

 

SEBI  के वर्तमान अध्यक्ष कौन है – SEBI president 2022 in hindi 

SEBI  के वर्तमान अध्यक्ष – माधबी पुरी बुच को भारतीय प्रतिभूति एवं विनिमय बोर्ड (सेबी) का अध्यक्ष नियुक्त किया गया है. इतिहास में यह पहली बार है जब प्राइवेट सेक्टर से किसी महिला को बाजार नियामक के महत्वपूर्ण पद के लिए चुना गया है. माधबी को अजय त्यागी की जगह नियुक्ति किया गया है

 

SEBI अध्यक्ष का कार्यकाल कितने वर्ष का होता है 

SEBI  के अध्यक्ष का कार्यकाल 5 वर्ष का होता है हालांकि अध्यक्ष के 65 वर्ष तक होने तक वह कार्यकाल में रह सकता है अब भारतीय केंद्रीय सरकार ने SEBI   कार्यकाल को 2 वर्ष कम करने का फैसला लिया है 

जिस से SEBI   का वर्तमान कार्यकाल केवल 3 साल का रह जाता है 

 

SEBI  की भूमिका क्या है –  Role of SEBI in Hindi 

भारतीय शेयर मार्केट में SEBI  की भूमिका –  Role of SEBI in Hindi , बहुत ही अहम है यस भारतीय वित्तीय बाजार को नियंत्रित करता है और उसे दिशा निर्देश देता है इन्वेस्टर की हितों और अधिकारों की सुरक्षा करता है भारतीय शेयर मार्केट में SEBI  की भूमिका –  Role of SEBI in Hindi निम्नलिखित है  

 

Stock Exchange को नियंत्रित करने के लिए Rules बनाना 

भारतीय शेयर मार्केट में किसी भी स्टॉक एक्सचेंज को नियंत्रित करने के लिए नियम बनाने का SEBI के पास में पूरा अधिकार है यह बहुत ही पारदर्शी और हितकारी होता है 

 

 Stock brokers और Dealers  को Licence  प्रदान करना

SEBI जैसी संविधानिक निकाय मार्केट में आने वाले नए नए स्टॉकब्रोकर्स और डीलर्स को लाइसेंस प्रदान करने का भी कार्य करते हैं तथा उन्हें नियंत्रित करती  है 

 Money market  में Fraud  और Scam  रोकना 

SEBI मनी मार्केट में होने वाले  फ्रॉड और स्कैम को रोकती है तथा उन ब्रोकर के ट्रेडिंग पर रोक लगाती है जो कि अनुचित तरीके से मार्केट को मैनिपुलेट करते हैं था ट्रेडिंग करते हैं 

Indian share market के प्रदर्शन को लिखित में Audit  करना

भारतीय वित्तीय बाजार में पारदर्शिता लाने के लिए SEBI  विभिन्न स्टॉक एक्सचेंज के प्रदर्शनों को लिखित में ऑडिट करके रखती है जिससे कि भविष्य में इनकी आकलन अच्छी तरह से लगाया जा सके 

ICAI के साथ में Relation  बनाना 

भारतीय शेयर मार्केट में किसी भी कंपनी के बेहतर ऑडिटिंग के लिए SEBI आईसीएआई के साथ में बेहतर संबंध बनाते हैं 

Volatility index  पर Derivative contract  लाना 

Indian share market  में Investors   के लिए जोखिम को कम करने के लिए SEBI स्टॉक एक्सचेंज में Volatility इंटेक्स के ऊपर Delhivery contact लाता है

 

 SEBI का  कार्य क्या है – Function of SEBI in Hindi 

दोस्तों सन 1992 में  सेबी एक्ट 1992 के आने के बाद SEBI  को आधिकारिक तौर पर सरकारी मान्यता मिली है था इसने भारतीय शेयर मार्केट को अपने अंतर्गत लिया और उनको दिशा निर्देश दिए

 सेबी का कार्य निम्नलिखित है

 

इंसाइडर ट्रेडिंग पर रोक

शेयर मार्केट में किसी भी कंपनी के प्राइस में उतार चढ़ाव सेया कंपनी की घोषणा से बहुत फर्क पड़ता है कुछ  कंपनी के कर्मचारी पहले ही सिक्योरिटीज को भेज देते हैं या खरीद लेते हैं इसे ही इंसाइडर ट्रेडिंग कहते हैं 

 

SEBI  भारतीय शेयर मार्केट में होने वाले इंसाइडर ट्रेडिंग को रोकता है और उस पर लगाम लगाता है 

शेयर प्राइस में हेराफेरी को नियंत्रित

दोस्तों SEBI   की स्थापना शेयर मार्केट में शेरों की कीमत में भारी उतार-चढ़ाव को रोकने के लिए ही किया गया था हालांकि शेयरों के भाव में उतार-चढ़ाव होना आम बात होती है लेकिन कई बार यह किसी समूह विशेष के द्वारा किया जाता है 

जिससे नए नए निवेशकों को बहुत ज्यादा घाटा उठाना पड़ सकता है और वह भारतीय शेयर मार्केट से पलायन कर जाते हैं इसी की समस्या को दूर करने के लिए SEBI   कड़े से कड़े कानून मारती है तथा उन पर लागू करती है 

 

Investors and traders  के हितों की रक्षा करना

इन्वेस्टर्स और ट्रेडर्स भारतीय वित्तीय बाजार के आधार होते हैं इसलिए इन्वेस्टर्स और ट्रेडर्स के हितों की रक्षा करना SEBI  का मुख्य काम होता है 

SEBI समय-समय पर कई सेमिनार का आयोजन करती है जिसमें नए इंडस्ट्रीज और ट्रेडर्स को ट्रेनिंग देते हैं तथा उन्हें सचेत करते हैं और धोखाधड़ी विकास के एम से बचने के लिए प्रेरित करते हैं 

 

वित्तीय मध्यवर्ती का काम

SEBI भारतीय वित्त बाजार को सुचारू रूप से चलाने के लिए इसकी ट्रांजैक्शन को पूरी करवाती है तथा भारतीय शेयर मार्केट में वित्तीय व्यवस्था को सुचारू रूप से चलाए रखती है जिससे कि कोई प्रॉब्लम ना आए और ट्रेडिंग तो इन्वेस्टिंग सुचारू रूप से चलती रहे 

 

भारतीय शेयर मार्केट का विकास

SEBI भारतीय शेयर मार्केट के विकास को आगे बढ़ाने तथा भारतीय शेयर मार्केट में नई नई टेक्नोलॉजी लाने और ट्रेडिंग तथा इन्वेस्टिंग के नए-नए तरीकों का भारतीय शेयर मार्केट में लाने जिससे कि भारतीय शेयर मार्केट का विकास हो और ज्यादा से ज्यादा लोग शेयर मार्केट से जुड़े और भारतीय पूंजी  बाजार बहुत बड़ा हो और इसका मार्केट कैप भी बढ़ जाए 

 

वर्तमान में SEBI  में कितने Stock Exchange  पंजीकृत है – SEBI listed Stock Exchange 

वर्तमान में SEBI  के अंतर्गत लगभग 23 Stock Exchange  पंजीकृत है  या  वर्तमान समय में सेबी के अंतर्गत लगभग 23 Stock Exchange  Listed  हैं 

 

SEBI Act 1992 in Hindi  – SEBI Act 1992 

दोस्तों भारतीय सरकार ने सन 1992 में SEBI Act 1992 कानून को पारित किया जिस से  SEBI को आधिकारिक मान्यता मिली इसके बाद SEBI  सेबी के पास में भारतीय शेयर मार्केट को नियंत्रित करने की शक्तियां आई 

SEBI निम्नलिखित मामलों को नियंत्रित करता है 

  • किसी भी म्युचुअल फंड्स का पंजीकरण 
  • धोखाधड़ी गतिविधियों को रोकने का 
  • अनुचित ट्रेड प्रैक्टिस 
  • किसी भी कंपनी का अधिग्रहण 
  • निरीक्षण का कार्य 

 

 

Conclusion 

दोस्तों अभी तक आपने जाना है कि SEBI kya hai in Hindi , Sebi  किस प्रकार कार्य करता है, SEBI meaning in Hindi , SEBI  full form in Hindi , SEBI  के अध्यक्ष कौन है

आशा करता हूं कि आपको यह लेख अच्छा लगा होगा और इससे आपको कुछ महत्वपूर्ण जानकारी मिली होगी यदि आप अपनी राय रखना चाहते हो तो नीचे कमेंट बॉक्स में कमेंट अवश्य करें

लेख को शुरू से लेकर अंत तक पढ़ने के लिए धन्यवाद 

About Dhirendra singh

मेरा नाम Dhirendra Singh Bisht है और मैं इस Technet ME फाउंडर और owner हूं , दोस्तों मैंने अभी अपनी डिग्री पूरी की है और मुझे लोगों की समस्याओं का हल करना अच्छा लगता है और मुझे लोगों को नई नई चीजें सिखाने में और Technology Business Banking ,Marketing के बारे में अच्छी जानकारी है

Leave a Comment