E sim क्या है ? E sim काम कैसे करती है | E sim के फायदे क्या है

E sim क्या है E sim kya hai in Hindi – E sim काम कैसे करती है -E sim के फायदे क्या है How to activate e Sim ,What is e sim and how to work it ,E sim pros and cons , दोस्तों आज हम बात करने वाले हैं कि What is e sim and how to work it E sim kya hai , How to activate e Sim ,What is e sim and how to work it और ई sim के फायदे और नुकसान क्या क्या है तथा इस sim किस प्रकार काम करती है और हमें किस कंपनी के sim को किस प्रकार ना चाहिए जैसे कि एयरटेल जिओ और वोडाphone आइडिया की sim कैसे प्राप्त करें चलिए जानते हैं 

E sim क्या है ? E sim काम कैसे करती है | E sim के फायदे क्या है

 

E sim क्या है – पहले  mobile आप जब phone खरीदते थे तब आप साथ में Sim भी खरीदते थे और अपना एक Network का  plan करवाते थे  तथा  recharge करवा कर Aaj internet का आनंद लेते थे कभी आपने सोचा है कि sim लेने की सर दर्द खत्म हो जाए तथा हम चाहे कोई सा भी  network यूज कर पाए एक ही sim में तथा एक ही नंबर पर

 यह एक ऐसी Technology है जो भारत में आ चुकी है तथा इसे भारत में सबसे पहले लाने वाला Brand था  Motorola   Motorola ने सबसे पहले अपने phone  Moto Razer  मैं इस  e Sim  को  introduce किया था

 अभी   e Sim Google  Apple Samsung आदि में देखने को मिल जाती है यह ब्रांड भी sim की तरफ काफी ज्यादा कार्य कर रहे हैं तथा अपने phone में अपनी sim को ज्यादा से ज्यादा लगा रहे हैं

भारत में अभी स्टार लिंक का आगमन भी हो चुका है ऐसे में इंटरनेट की दुनिया में एक बड़ी हलचल होने वाली है

 

E sim क्या है ? E sim kya hai |what is e sim in Hindi

E sim क्या है –  यह एक नई Technologyहै तथा विश्व के कई देशों में यह कार्यरत है मतलब उन देशों मे  इसका उपयोग किया जाता है  e Sim का फुल फॉर्म Embedded subscriber identity module सामान्य से बहुत छोटा होता है यह एक Virtual sim होता है जिसे हम Digital sim भी क्या सकते हैं यह

एक चिप के रूप में हमारे मोबाइल phone में लगा होता है मतलब यह हमारे phone के अंदर ही एक अभिन्न अंग होता है जिसे की हम मोबाइल से अलग नहीं कर सकते है हम इसी sim से एक ही नंबर पर कई सारे

Telecom company के सर्विस का आनंद ले सकते हैं बहुत ही जल्दी और बहुत ही सरलता स E sim क्या है और E sim काम कैसे करती है  eSim Kya hai and how its work

 

 

SIM की हिस्ट्री – History of sim Hindi

 जैसे कि सबसे पहले एक बड़ी SIM CARD  आया करती थी  उसके बाद छोटी SIM CARD  तथा उसके बाद Micro sim card आई   और उसके बाद Nano sim card आई अब इन सभी के बाद आई है

E sim यह Technology भारत में आ चुकी है इस sim में हमें प्लास्टिक की जरूरत नहीं पड़ेगी यह  digitalदुनिया में एक क्रांतिकारी कदम होगा  तथा इससे हमारे  Network के अनुभव में काफी सुधार होगा

जैसा कि आप ऊपर ही जान  चुके हो  की  e Sim  एक वर्चुअल sim होती है इसे हम Digital sim भी कह सकते हैं तथा यह  digital sim हमारे phone के अंदर ही अटैच होकर आती है मतलब यह हमारे phone का अभिन्न अंग होता है इसे हम phone से अलग नहीं कर सकते है

 

 

E sim काम कैसे करती है – E sim Kaam Kaise karti hai | How to work e Sim

E sim काम कैसे करती है – Work of e Sim – इस डिजिटल  e Sim का उपयोग हम एक software के माध्यम से उपयोग कर सकते हैं इसका मतलब यह है कि यह एक Internal storage की तरह काम करता है जिसमें हम किसी भी तरह का Data store कर सकते हैं

 तथा यह इस Dataको Read or write कर सकता है जैसे कि आप नई sim खरीदते हो तो आप पहले वाले   e Sim की जानकारी यहां से हटा करके नई वाली   e Sim sim की जानकारी इसमें डाल सकते हो e Sim sim का उपयोग करने के लिए आपको चाहिए कि आपके पास एक  e Sim समर्थक एक  मोबाइल phone हो जोकि  e Sim  का सपोर्ट होना चाहिए और आप अपने Network Operator से  Contact करके इस  e Sim का उपयोग कर सकते हो 

  e Sim के लिए जैसा कि आप जानते हो कि यह Technology अभी बिल्कुल  नई है इसलिए इस तकनीक को केवल कुछ हीMobile phone प्रदाता मोबाइल phone के अंदर प्रदान कर रहे हैं जैसे Samsung Google Apple तथा कुछ अन्य  mobile company अपने मोबाइल  Phone के अंदर   e Sim की टेक्नोलॉजी का उपयोग कर रहे हैं E sim क्या है 

 

 

E sim कैसे कार्य करता है – How to work e Sim In Hindi

E sim काम कैसे करती है -जैसा कि आप जानते हो कि यह  sim मोबाइल phone के अंदर ही लगी होती है तो ऐसे में जब आप एक नया phone लेती हो तब यह पूरी तरह से खाली होती है ऐसे में आपको अपनी  e Sim Activate करने के लिए अपने Network provider से संपर्क करना होगा भारत में अभी तकAirtel jio तथा Vodafone Idea OR vi  आदि   e Sim प्रोवाइड करवाती है 

आपका Network provider आपको एक qr-code देता है जिसे स्कैन करते ही आपकी यह   e Sim Activate हो जाती है   e Sim  activate होने में कम से कम 2 घंटे लेता है तथा 2 घंटे बाद आपके phone में रेंज दिखाने लगेगा

 और आप कॉलिंग इंटरनेट messaging आदि का आनंद उठा सकते हो   e Sim एक्टिवेट होने के बाद बिल्कुल एक  physical sim के मुताबिक कार्य करता है जिस प्रकार एक Physical sim कार्य करता है 

हेलो दोस्तों जैसा कि आप अभी तक जान सके की की    e Sim Kya hai and how its work क्या है और एक ऐसे कार्य करती है  यह एक डिजिटल sim है जो कि हमारे phone के अंदर ही लगी हुई होती है और इसे हम phone से अलग नहीं कर सकते हैं इसके कई सारे फायदे हैं चलिए जानते हैं इसके फायदे क्या है

 

E sim के Benefits क्या है – E sim के फायदे |  Benefits of e SIM in Hindi

E sim क्या है | E sim के फायदे | –  पहला फायदा तो यह है कि  हमारे बार-बार sim खरीदने तथा sim निकालने और डालने की समस्या खत्म हो

  1.     यह sim हमारे phone के मदरबोर्ड के साथ में अटैच आती है इसलिए हमारे phone के अंदर कोई अतिरिक्त जगह नहीं भेजती है जिस प्रकार पुरानी sim के लिए अतिरिक्त जगह छोड़नी पड़ती थी
  2.     यह sim ड्राइवरों के लिए बहुत ही अच्छी होने वाली है जैसे कि आप कहीं विदेश चले जाते हो तो ऐसे में आप वहां पर sim खरीदने और नेटवर्क उपयोग करने के झंझट से  बच सकते हो
  3.     सबसे बड़ा फायदा हमारा यह है कि हमारी sim गुम होने की समस्या ही खत्म हो गई
  4.     इस sim को कोई भी व्यक्ति हमारे phone से चुरा नहीं सकता है और डाटा चोरी की समस्या से बचा सकता है है      

 

E sim की समस्याएं –  E Sim problem in Hindi

E sim क्या है दोस्तों जैसा कि आप जानते हो कि हर चीज के या हर किसी अच्छी वस्तु के दो पहलू होते हैं एक अच्छा होता है एक बुरा भी हो सकता है या समस्या ग्रस्त हो सकता है तो जानते हैं कि

यह sim की Problem  है क्या है और इनमें अभी तक क्या Problem  आ रही है

  1.     E sim  की सबसे बड़ी दिक्कत तो यही है कि यह बहुत ही महंगे हैं और बहुत ही रेयर है
  2.     अभी तक कुछ ही मोबाइल phone के मॉडल आए हैं जो इस sim को सपोर्ट करते हैं आशा करते हैं कि भविष्य में और भी आ जाएं
  3.     दोस्तों इस के डिजिटल होने की वजह से इसमें वायरस की दिक्कत आ सकती है और हमारे डाटा के साथ कुछ भी हो सकता है
  4.     दोस्तों इसमें कुछ टेक्निकल इश्यू आ रहे हैं जैसे कि सॉफ्टवेयर और नेटवर्क की स्पीड से संबंधित प्रॉब्लम आ रही है

 

 

E sim को एक्टिवेट कैसे करें – how to activate E sim

E sim क्या है – जैसा कि अभी तक आप जान  चुके हो कि e Sim हमारे मोबाइल phone का एक अभिन्न अंग होता है तथा   e Sim Activate कराने के लिए हमारे Network providers हमारी सहायता करते हैं

तू दोस्तों मैं आपको बताना चाहता हूं कि e Sim को Activate करवाने के लिए हर network provider का अपना अलग अलग तरीका होता है तथा एक अलग प्रक्रिया होती है जिससे कस्टमर को गुजरना होता है चलिए जानते हैं

Airtel E sim activation कैसे करें –  how to activate Airtel E sim

E sim क्या है – Airtel SIM activation kaise karen – हेलो दोस्तों जैसा कि मैंने अभी तक आपको बताया है कि अलग-अलग सर्विस प्रोवाइडर के  e Sim Activate करवाने के लिए अलग-अलग प्रक्रिया होती है चलिए जानते हैं कि  Airtel के  e Sim को Activate  कैसे करें

  1.     सर्वप्रथम हमें अपने  Airtel e sim की sim को हमारे  email ID के साथ कनेक्ट कर देना है
  2.     अब हमें ईमेल आईडी के द्वारा eSIM<> email ID इस मैसेज को121  पर भेजना है
  3.     अब कंपनी की तरफ से रिप्लाई आएगा कि आपकी तरफ से ही sim के लिए आवेदन आया है इसलिए  कंफर्म के लिए 1 दबाएं
  4.     अब आपकी ईमेल आईडी पर एक क्यूआर कोड आएगा यह क्यूआर कोड कंपनी की तरफ से आता है जोकि 2 मिनट से लेकर 2 घंटे के अंदर आता है
  5.     अभी यह क्यूआर कोड को आप अपने आईphone E sim  सपोर्टर phone के द्वारा इसे स्कैन किया जाता है
  6.     अब आपकी ई sim 2 घंटे के अंतर्गत एक्टिवेट हो जाएगी तथा आपको नेटवर्क दिखाने लगती है

 

JIO की E sim  Activation कैसे करें – How to activation jio e sim 

 दोस्तों जैसा कि आप पढ़ चुकी हो कि अलग-अलग sim के लिए कंपनियों के अलग-अलग प्रक्रिया होती है इसलिए अब हम जानेंगे कि जिओ की sim कैसे एक्टिवेट करें चलिए जानते हैं

  1.     दोस्तों हमें जियो की  E sim  एक्टिवेट करने के लिए हमें जिओ के एक स्टोर पर जाना होता है
  2.     हमें अपनी  e Sim एक्टिवेट करवाने के लिए Jio Store पर आधार कार्ड या पहचान पत्र ले जाना होगा
  3.     Jio Store  वाले हमसे हमारी फिजिकल sim ले लेंगे तथा हमें हमारे phone के अंदर एक QR code को डाल देंगे
  4.     यह क्यूआर कोड अगले 10 मिनट में एक्टिवेट हो जाता है जिससे कि हम अपने phone से जोकि डी sim को सपोर्ट करता हो उससे स्कैन करेंगे
  5.     अब हमें हमारा डाटा प्लान चुनना है है और इस sim को एक्टिवेट कर लेना है यह sim अगले 2 घंटे में एक्टिवेट हो जाएगी

 

 

VI की  E sim को Activation Kaise करें – How to activate VI  E sim

तो दोस्तों अभी तक हमने बातें की है कि एयरटेल तथा जिओ की ई sim को कैसे एक्टिवेट करते हैं  और हम किस प्रकार उनकी सर्विस का आनंद ले सकते हैं अब हम बात करने वाले हैं कि VI  टी इ sim को किस प्रकार एक्टिवेट करते हैं चलिए जानते हैं कि वोडाphone और आइडिया की sim को कैसे एक्टिवेट करें

  1.     सर्वप्रथम हमें vi  की ऑफिशियल वेबसाइट पर जानी है तथा यदि आप मोबाइल से करते हैं तो आपको vi  ऐप डाउनलोड करना पड़ेगा
  2.     अब आपको इसकी वेबसाइट पर एक्सप्लोर के ऑप्शन पर जाकर ही sim एक्टिवेशन के ऑप्शन पर क्लिक करना है
  3.     अब आपको आपके नजदीकी vi  केयर पर जाना है वहां पर जाकर आपको ई सिंह के लिए एप्लीकेशन लगानी है
  4.     आपको अपने साथ में अपने आपको अपने साथ में अपने जरूरी दस्तावेज से आधार कार्ड पहचान पत्र आदि लेकर जाने हैं
  5.     वह आपको एक क्यूआर कोड जनरेट करके देंगे उसके द्वारा आप उसेvi  एप के द्वारा स्कैन करके आप इस sim को एक्टिवेट कर सकते हैं
  6.     Vi कंपनी ने अभी तक सिर्फ Postpaid वाली sim को ही e Sim  में बदलने का निर्णय लिया है यदि आप की पोस्ट पर sim है तभी आप इसे इसी में मैं बदल सकते हैं

E sim का Future कैसा रहेगा – Future of E sim  in Hindi

दोस्तों e sim  का फ्यूचर काफी अच्छा होने वाला है क्योंकि गूगल एप्पल और अन्य वडी मोबाइल कंपनियों ने अपने phone के अंदर sim डालने की भविष्यवाणी कर दी है भविष्य में भी sim का ही बोलबाला रहेगा क्योंकि हम बहुत ही जल्दी इस sim के द्वारा अपने नेटवर्क ऑपरेटर को कुछ ही घंटों में बदल सकते हैं जबकि फिजिकल सिंह के द्वारा दो से 3 दिन लग जाते हैं

दोस्तों जैसा कि आप जानते हो कि मोबाइल दिन प्रतिदिन छोटे से छोटे हो जा रहे हैं ऐसे में यह छोटी-छोटी sim बहुत ही अच्छी होने वाली है और हमारे अनुभव को बहुत ही अच्छा कर देंगे

दोस्तों अभी तक आप जान चुके होंगे कि E sim Kya hai and how its work. दोस्तों अभी तक हमने जाना कि e sim  यह तकनीक नई नई आई है ऐसे में इसकी कई कमियां भी है और इसकी कई खूबियां भी है जैसे ही मान लो अपना phone स्विच ऑफ होने वाला है ऐसे में हम फिजिकल sim को निकालकर दूसरे phone में डाल तो सकते हैं लेकिन इस sim को निकाल कर किसी दूसरे phone में नहीं डाल सकते है

दोस्तों मुझे आशा है कि आप को इस आर्टिकल से पता चल चुका होगा कि E sim Kya hai and how its work. आपके मन में   अब  भी इससे संबंधित कुछ भी प्रश्न हो आप मुझे कमेंट कर सकते हो और अपनी राय अवश्य रख सकते हो

About Dhirendra singh

मेरा नाम Dhirendra Singh Bisht है और मैं इस Technet ME फाउंडर और owner हूं , दोस्तों मैंने अभी अपनी डिग्री पूरी की है और मुझे लोगों की समस्याओं का हल करना अच्छा लगता है और मुझे लोगों को नई नई चीजें सिखाने में और Technology Business Banking ,Marketing के बारे में अच्छी जानकारी है

Leave a Comment