E-rupi Kya hai In Hindi ? E-rupi kaam कैसे करता है

E-rupi Kya hai in Hindi, e-rupi  kaam kaise karta hai , E-rupi ke Fayde kya hai In Hindi – दोस्तों जब से बाहर देश में UPI  का आविष्कार हुआ है अर्थात यूपीआई का भारत में आगमन हुआ है और NPCI  संस्था का भारत में स्थापित हुई है ऐसे में भारत में डिजिटल क्रांति और डिजिटल लेंगे ऑनलाइन ट्रांजैक्शन को बहुत ही अधिक बढ़ावा मिला है यह पूरे विश्व में सबसे सरल पेमेंट लेन-देन का एक अच्छा तरीका उपलब्ध करवाती है

आज भारत सरकार ने ऑनलाइन लेनदेन को और भी सरल बनाने की दिशा में तथा इसका लाभ प्रत्येक व्यक्ति तक पहुंचाने  के लिए और भारत के प्रत्येक गरीब व्यक्ति तथा जरूरतमंद व्यक्ति तक सरकारी सहायता पहुंचाने के उद्देश्य से एक और नई तकनीक  को बाजार में उतारा है जिसे e-rupi (e-rupi In Hindi)  कहते हैं यह एक बहुत ही अच्छा पेमेंट ऑप्शन है

e-rupi (e-rupi In Hindi ) को बनाने का मुख्य उद्देश्य यह है कि सरकार के प्रत्येक स्कीम का पैसा गरीबों तक और जरूरतमंद व्यक्ति तक बड़ी आसानी से और बहुत जल्दी पहुंच जाए उसके और स्कीम के बीच में कोई अन्य व्यक्ति ना पाए

दोस्तों यदि आप भी जानना चाहते हो कि e-rupi क्या है(e-rupi In Hindi ) (What is e-rupi in Hindi ) e-rupi में कैसे कार्य करती है e – rupi के Fayde क्या क्या है ,e-rupi  कहां-कहां उपयोग होता है  तो आप इस लेख को शुरू से लेकर अंत तक अवश्य पढ़ें

E-rupi Kya hai ? E-rupi कैसे कार्य करता है | E-rupi के Benefits क्या क्या है

e-rupi क्या है In Hindi – What is e-rupi in Hindi

e-rupi Kya hai in hindi  – दोस्तों e – rupi  एक डिजिटल भुगतान प्रणाली है जिसे भारतीय प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जी ने 2 अगस्त 2021 को लांच किया था e-rupi भुगतान प्रणाली पहले से उपस्थित पेमेंट मेथड  से बिल्कुल अलग है पहले वाली पेमेंट मेथड में हम सीधे ही रुपए भेजते थे जबकि e-rupi(e-rupi In Hindi )  पेमेंट मेथड एक प्रकार का वाउचर पेमेंट सिस्टम है

हम कह सकते हैं कि e – rupi  एक प्रकार का गिफ्ट कार्ड होता है जो कि एक स्पेसिफिक जगह पर ही चलता है जिस काम के लिए हमें दिया जाता है सिर्फ उसी काम के लिए उपयोग होता है

दोस्तों e – rupi  के उपयोग के लिए किसी भी व्यक्ति का बैंक अकाउंट का होना आवश्यक नहीं होता है e – rupi  का लाभ प्रत्येक व्यक्ति तक पहुंचाने के लिए SMS string  और QR code  सिस्टम की मदद ली जाएगी इसके उपयोग करने के लिए आपके पास है यदि स्मार्टफोन हो तो अच्छा होता है लेकिन यदि आपके पास में कीपैड फोन हो तो उसमें भी s.m.s. की मदद से आपको e – rupi (e-rupi In Hindi) सुविधा प्राप्त हो जाएगी

e – rupi की विशेषता क्या है – Features of e-rupi  in Hindi

  1.   दोस्तों e-rupi  की खास विशेषता  या e-rupi (e-rupi In Hindi )   का बेस्ट फीचर यह है कि यह पहले से उपस्थित डिजिटल पेमेंट सिस्टम से बिल्कुल अलग है यह एक बाउचर सिस्टम है जो कि एस एम एस स्ट्रिंग और क्यूआर कोड से मिलकर बना है
  2.  इसके उपयोग के लिए किसी भी स्कीम के लाभान्वित व्यक्ति के लिए बैंक अकाउंट का होना आवश्यक नहीं है इसे हर कोई व्यक्ति प्रयोग कर सकता है जो सरकारी योजना  का हकदार है
  3.  e-rupi  बहुचर का उपयोग लाभान्वित व्यक्ति उसी काम के लिए कर सकता है जिस काम के लिए सरकार उसे e-rupi   वाउचर  प्रदान करती है इसके अलावा वह और कुछ काम नहीं कर सकता है
  4.  यदि वह निश्चित समय अंतराल में e-rupi  वाउचर  का उपयोग नहीं करता है तो यह e – rupi  वाउचर से मिलने वाला लाभ  रिफंड हो जाता है इस प्रकार सरकारी योजना में  होने वाले घोटाले कम हो सकते हैं
  5.   दोस्तों e-rupi को प्रत्येक सरकारी योजना से लाभान्वित व्यक्ति तक भेजने के लिए किसी प्रकार की फिजिकल इंस्ट्रूमेंट की आवश्यकता नहीं होती है यह एक प्रीपेड गिफ्ट वाउचर होता है जिसे आप प्रत्येक व्यक्ति के स्मार्टफोन या मल्टीमीडिया फोन में आराम से भेज सकते हो

 

e-rupi कार्य कैसे करता है – How does work e-rupi In Hindi

दोस्तों  e-rupi एक  Prepaid Electronic voucher है जोकि QR code ya SMS string  तकनीक के ऊपर कार्य करती है  दोस्तों e-rupi (e-rupi In Hindi )   को किसी भी लाभार्थी के फोन में डायरेक्ट उसके Smartphone  या Multimedia phone  के माध्यम से पहुंचाया जा सकता है

यह एक QR code  के रूप में या SMS code  के रूप में पहुंचाया जाता है बाद में वह एक स्पेशल की सुविधा केंद्र पर जाकर इस लाभ को रिडीम करा सकता है या लाभान्वित हो सकता है

जैसे किसी व्यक्ति को सरकार शिक्षा के लिए e-rupi  प्रीपेड वाउचर देती है कि उसे किताबे खरीदनी है और ड्रेस खरीदनी है तो वह उस e-rupi   प्रीपेड वाउचर का उपयोग किसी अन्य कार्य में नहीं खर्च कर सकता है

 वह केवल उसे  स्कूल की ड्रेस की दुकान पर या किसी भी किताब की दुकान पर खर्च कर सकता है यदि उसने निश्चित समयावधि में  वह e-rupi   वाउचर रिडीम नहीं कराता है तो यह रिफंड हो जाता है

E-rupi Digital payment की आवश्यकता क्यों हुई – Need of e-rupi  in Hindi

दोस्तों आज भारत की आबादी लगभग 130 करोड़ है आज देश विकास तो कर रहा है  लेकिन हम आज भी  सामान्य  सुविधा की दृष्टि से बहुत ही पीछे हैं आज से कुछ तीन चार साल पहले जब एनपीसीआई ने यूपीआई का आविष्कार किया तब से अभी तक लोगों में ऑनलाइन लेनदेन का खासा प्रचलन बढ़ा है लोग ऑनलाइन लेन देन  की तरफ आकर्षित हुए हैं

दोस्तों इस ऑनलाइन लेन-देन में कोरोनावायरस के इस भयंकर काल में भी लोगों की  बहुत अच्छी सहायता की थी लेकिन इस महामारी के चलते और अन्य परेशानियों के चलते ऐसे हजारों लाखों लोग सरकारी सहायता से वंचित रह गए थे

जिन्हें वास्तव में सरकारी सहायता की आवश्यकता थी या तो उनके पास में मोबाइल फोन नहीं थे या उनके पास में कोई  बैंक अकाउंट नहीं था इनकी कमी को दूर करने के लिए e-rupi (e-rupi In Hindi )   बहुत ही आवश्यक थी

आज के समय हमारे भारत देश में लगभग 100 करोड़ लोग अपने पास में प्रत्यक्ष या अप्रत्यक्ष रूप से मोबाइल फोन चाहे वह स्मार्टफोन हो जाए वह मल्टीमीडिया फोन अवश्य रखते हैं दोस्तों ऐसे ही पिछड़े और जरूरतमंद व्यक्तियों और वर्गों के विकास के लिए तथा उनकी सहायता के लिए e-rupi   पेमेंट सिस्टम का आविष्कार करना या e-rupi   को धरातल पर लाना बहुत ही आवश्यक था

E-rupi Digital payment  की महत्वता क्या है – Importance of e-rupi in Hindi

 दोस्तों आज के इस तेजी से बढ़ते हुए डिजिटल भारत में e-rupi  Importance  बहुत ही अधिक है क्योंकि भारत की आबादी बहुत ही ज्यादा है और प्रत्येक व्यक्ति तक सरकारी योजना का लाभ पहुंचे यही e-rupi (e-rupi In Hindi )   का मुख्य उद्देश्य है  क्योंकि आज से कुछ साल पहले जब व्यक्ति के पास में बैंक अकाउंट नहीं होते थे तब उन्हें किसी भी सरकारी योजना का लाभ सीधा प्राप्त नहीं होता था बीच में कुछ काट छांट करके उनके पास में लाभ पहुंचता था

 जैसे ही प्रधानमंत्री जन धन योजना के तहत अकाउंट खोले गए तब उन्हें सीधा ही उनके अकाउंट में पेमेंट होने लगी लेकिन अभी भी ऐसे हजारों व्यक्ति हैं जिनके पास में उनका खुद का बैंक अकाउंट नहीं है और वह इसी के चलते सरकारी योजनाओं का लाभ नहीं ले पाते हैं दोस्तों इसी कमी को दूर करने के लिए

 भारतीय संस्था नेशनल पेमेंट कॉरपोरेशन ऑफ इंडिया (npci) ने e-rupi (e-rupi In Hindi )   नामक प्रीपेड वाउचर सिस्टम का इजाद किया है  इसका मुख्य उद्देश्य भविष्य में किसी भी जरूरतमंद व्यक्ति तक आवश्यक सहायता राशि या सहायता पहुंचाना है

 अभी तो यह सिर्फ कुछ ही क्षेत्रों में लागू किया गया है जैसे अस्पताल और स्वास्थ्य सुविधाओं के लिए लेकिन भविष्य में इसे हर क्षेत्र के लिए योग्य बनाने के लिए e-rupi  डिजिटल पेमेंट के ऊपर कार्य किया जा रहा है तथा इसे और भी आसान बनाया जा रहा है

e-rupi Voucher Payment  का use  कैसे करें – How to use e-rupi Voucher  in Hindi

  1. दोस्तो आप को e-rupi Voucher  का उपयोग करने के लिए सर्वप्रथम अपने एंड्राइड के स्मार्टफोन में गूगल प्ले स्टोर से
  2.   e-rupi  पेमेंट एप्लीकेशन को डाउनलोड करके इंस्टॉल करना है
  3.   e-rupi Voucher एप्लीकेशन इंस्टॉल होने के बाद इसे आप ओपन करें और अपने मोबाइल नंबर के द्वारा इसमें रजिस्ट्रेशन करें
  4.   यदि आपकी यूपीआई आईडी पहले से ही बनी हुई है तो यह आपको शो  हो जाएगी
  5.   अब आप अपने मोबाइल नंबर से रजिस्ट्रेशन करने के बाद इसका उपयोग आराम से कर पाओगे आपको इसमें पेमेंट मेथड ऐड करना होगा

 

E-rupi voucher कौन issue करता है – Who will issue e-rupi Voucher

दोस्तों e-rupi  बहुचर का विकास  भारतीय पेमेंट संस्था अर्थात नेशनल पेमेंट कॉरपोरेशन ऑफ इंडिया  ने  अपने प्लेटफार्म UPI के आधार पर किया है e-rupi के  विकास के लिए इसने कई सारे भारतीय बैंकों के साथ में अनुबंध  किया हुआ है

भारत के National payment Corporation of India  के साथ में अनुबंध किए गए Banks  ही e-rupi  Voucher को Upi की मदद से जारी करेंगे अर्थात Issue  करेंगे

यह भारतीय बैंक दो प्रकार के होते हैं एक जो कि e-rupi  को जारी करते हैं तथा दूसरा जो कि e-rupi  को एक्सेप्ट करते हैं या e-rupi   स्वीकार करते हैं नेशनल पेमेंट कॉरपोरेशन ऑफ इंडिया ने सभी पेमेंट जारीकर्ता संस्थानों को प्रमुख स्थान दिया है

e-rupi voucher कैसे issue होता है – How will issue e-rupi voucher

दोस्तों e-rupi Voucher system  NPCI ने अपने प्लेटफार्म UPI के ऊपर इसका विकास किया है इसको कई बैंकों के साथ में जोड़ा जाता है और उनके साथ में टाई अप किया गया है तथा सभी पेमेंट जारीकर्ता संस्थानों को इसका प्रमुख हिस्सा बनाया गया है

जैसे किसी व्यक्ति को खाने के लिए भोजन की आवश्यकता है तो ऐसे में सरकार या कोई भी ऐसा व्यक्ति जो उसकी मदद करना चाहता हो वह यूपीआई की मदद से एक गिफ्ट वाउचर का निर्माण करता है यूपीआई बैंक के साथ में कांटेक्ट करती है तथा प्रीपेड गिफ्ट वाउचर का निर्माण करती है  उस जरूरतमंद व्यक्ति की पहचान उसके मोबाइल नंबर के आधार पर किया जाता है

यूपीआई इस QR code  को या Gift voucher  को कुछ सेकंडो में बना लेता है इससे बनने वाले  Gift voucher  या क्यूआर कोड 3 होते हैं एक  उस जरूरतमंद व्यक्ति के पास तथा एक किसी भोजन के रेस्टोरेंट के पास तथा एक NPCI खुद रखता है ताकि बाद में विवाद की स्थिति में खुद निर्णय कर सके

दोस्तों यदि वह  जरूरतमंद व्यक्ति इस e-rupi  प्रीपेड वाउचर का इस्तेमाल एक निश्चित समय अंतराल में नहीं करता है तो यह अपने आप ही रिफंड हो जाता है और कैंसिल हो जाता है इसका उपयोग बाद में नहीं कर सकता है

E-rupi Voucher Issue करने वाले  Banks – (e-rupi Issue Bank list )

 दोस्तों से किया आपने अभी तक ऊपर जाना है कि e-rupi Voucher भारत के पेमेंट संस्था  National payment Corporation of India ने इजाद  किया है अर्थात विकास किया है e-rupi Voucher का सफलतापूर्वक संचालन के लिए  भारतीय सरकार ने  सभी पेमेंट संस्थाओं और बैंकों के साथ में अनुबंध किया है

 उसमें से कई सारे बैंक ऐसे होते हैं जो कि e-rupi Voucher  को जारी करेंगे था कई बैंक ऐसे होते हैं जो e-rupi Voucher एक्सेप्ट  करेंगे या ग्रहण करेंगे कई सारे बैंक ऐसे होंगे जो दोनों कार्य एक साथ करेंगे e-rupi Voucher  जारी भी करेंगे और e-rupi Voucher  को प्राप्त भी करेंगे

e-rupi Voucher Issuer And  Acceptance Bank list in Hindi- e-rupi Voucher को जारी और ग्रहण करने वाले Banks  की सूची

 

S/no.

Bank name

Issuer

Acceptance

Accept app

1.

Axis Bank

Yes

Yes

Bharat pay

2.

Bank of Baroda

Yes

Yes

Bhim Baroda merchant pay

3.

Canara Bank

Yes

N/A

N/A

4.

ICICI Bank

Yes

Yes

Bharat pay and PineLabs

5.

HDFC Bank

Yes

Yes

HDFC business  app

6.

State Bank of India

Yes

Yes

Yono SBI Merchant

7.

Union Bank of India

Yes

N/A

N/A

8.

Punjab National Bank

Yes

Yes

PNB merchant pay

9.

Kotak Bank

Yes

N/A

N/A

10.

Union Bank of India

Yes

N/A

N/A

11.

IndusInd Bank

Yes

N/A

N/A

 

e-rupi Voucher का use कहां होता है – Uses of e-rupi Voucher  of in Hindi

दोस्तों भारत सरकार के अनुसार e-rupi Voucher  का उपयोग देश के कल्याणकारी योजनाओं में किया जाएगा अर्थात देश की आर्थिक उन्नति के लिए देश  के जरूरतमंद व्यक्तियों को  सहायता प्रदान हेतु किया जाएगा

e-rupi Voucher का उपयोग बाल कल्याणकारी योजनाओं और टीवी उन्मूलन कार्यक्रमों के तहत किया जाएगा और e-rupi Voucher  उपयोग उर्वरक सब्सिडी तथा किसान सब्सिडी के लिए किया जा सकता है

दोस्तों अभी e-rupi Voucher  का उपयोग आयुष्मान भारत योजना , तथा प्रधानमंत्री जन आरोग्य योजना  के तहत तथा मातृ एवं बाल कल्याण चार्ट योजनाओं के तहत  सभी अस्पतालों में किया जा रहा है तथा सभी जरूरतमंद व्यक्तियों को लाभ पहुंचाने की कोशिश की जा रही है

दोस्तों अभी e-rupi Voucher  का शुरुआती दौर है इसलिए इसे कुछ जरूरी और आवश्यक सेवाओं के लिए ही उपलब्ध किया गया है लेकिन भविष्य में इसे हर क्षेत्र के लिए लागू करने की योजना बना रहे हैं जैसे कॉरपोरेट जगत में, और प्राइवेट संस्थानों में, तथा अन्य सभी जरूरतमंद क्षेत्रों में e-rupi Voucher  को लागू करने के लिए अभी कार्यरत है

 

e-rupi  के फायदे क्या क्या है – Advantage  of e-rupi Voucher in Hindi

e-rupi Voucher के आगमन से भारत में कई सारी पेमेंट आसानी से उपलब्ध हो जाया करेंगी तथा देश में कई आर्थिक जरूरतमंद व्यक्तियों को आर्थिक सहायता की प्राप्ति होगी ऐसे ही कुछ अन्य प्रकार के भी फायदे हैं जो कि e-rupi Voucher  से प्राप्त होने वाले हैं चलिए जानते हैं

  •  दोस्तों e-rupi Voucher की मदद से से हम बिना बैंक अकाउंट के भी सरकारी है योजना का लाभ ले सकते हैंतथा इसे किसी एक स्पेशल केंद्र पर जाकर रिडीम करा सकते हैं यह बहुत ही अच्छा  एक विकल्प है
  •  e-rupi Voucher का उपयोग करना बहुत ही आसान सुरक्षित और सरल है इसे हर कोई व्यक्ति बड़ी आसानी से उपयोग कर सकता है तथा इससे लाभान्वित हो सकता है
  •    e-rupi Voucher के उपयोग करते समय बहुत ही तेज गति से पेमेंट होने लगेगी जिससे पेमेंट में लगने वाले समय में कमी आएगी और पेमेंट फेल्ड की समस्या दूर होगी l
  •  e-rupi Voucher के आगमन से  अन्य पेमेंट सिस्टम पर पड़ने वाले अतिरिक्त भार  कम होगा जिसके चलते  यूपीआई और अन्य पेमेंट सिस्टम बहुत ही अच्छे से कार्य कर पाएगी तथा सही ढंग से उपयोग में आएगा
  •   दोस्तों e-rupi Voucher  क्या आगमन से सरकारी योजनाओं और एक जरूरतमंद व्यक्ति के बीच में किसी प्रकार का कोई भी दलाल नहीं आ सकता है इसमें सीधा कनेक्शन होता है और किसी प्रकार की कोई धांधली बाजी की आशंका नहीं जता सकते हैं

e-rupi Voucher के आगमन से स्वास्थ्य सुविधाओं और स्वास्थ्य के क्षेत्र में बहुत ही अधिक फायदा होने वाला है क्योंकि एक यही क्षेत्र होता है जिसमें हमें अधिक से अधिक पैसों की आवश्यकता होती है और सरकारी सहायता की आवश्यकता होती है

 

 E-rupi and Digital currency में अंतर – Difference between Digital currency and e-rupi  in Hindi

दोस्तों e-rupi  एक डिजिटल करेंसी नहीं है बल्कि एक डिजिटल करेंसी का अन्य रूप हो सकता है क्योंकि व्यक्ति ने e-rupi  को बाउचर के रूप में बदलवाने के लिए बैंक को भारतीय मुद्रा में पेमेंट की है और अपने भारतीय मुद्रा को e-rupi Voucher  में बदलवाया है

e-rupi Voucher भारतीय मुद्रा का ही एक अन्य ऑनलाइन रूप है यह कोई डिजिटल करेंसी नहीं है बल्कि भारतीय रुपया का एक डिजिटल रूप है

जबकि डिजिटल करेंसी का अपना एक अलग सोर्स  होता है डिजिटल करेंसी को लागू करने के लिए हमें कई लेवल पर तैयार होना पड़ता है उसकी उपयोगिता के लिए हमें केंद्र सरकार को एक बहुत बड़े लेवल पर कार्य करना होता है

 

                    Conclusion 

 दोस्तों अभी तक आपने जाना है कि , e-rupi Kya hai , e-rupi Kaise Karya karti hai , e-rupi  key benefits aur advantage kya kya hai  दोस्तों आशा करता हूं कि आपको यह लेख समझ आया होगा और अच्छा लगा होगा

 इस लेख की मदद से आप को e-rupi  के बारे में समझने में आसानी हुई होगी और आपको e-rupi  के बारे में पर्याप्त जानकारी मिली होगी  दोस्तों यदि e-rupi  के बारे में अपनी राय रखना चाहते हो तो कमेंट बॉक्स में कमेंट अवश्य करें

और इस लेख को व्हाट्सएप ग्रुप्स अपने नजदीक रिलेटिव्स और फ्रेंड सर्कल में अवश्य शेयर करें जिससे उनको भी इस महत्वपूर्ण जानकारी की प्राप्ति हो

About Dhirendra singh

मेरा नाम Dhirendra Singh Bisht है और मैं इस Technet ME फाउंडर और owner हूं , दोस्तों मैंने अभी अपनी डिग्री पूरी की है और मुझे लोगों की समस्याओं का हल करना अच्छा लगता है और मुझे लोगों को नई नई चीजें सिखाने में और Technology Business Banking ,Marketing के बारे में अच्छी जानकारी है

Leave a Comment