Cryptocurrency क्या है ? Cryptocurrency काम कैसे करती है | Cryptocurrency के प्रकार

Cryptocurrency क्या है ,Cryptocurrency kya hai Cryptocurrency  काम कैसे करती है Cryptocurrency के प्रकार – दोस्तों पूरी दुनिया में सभी देशों की अपनी अलग अलग मुद्राएं हैं एक वक्त ऐसा भी था जब पूरे विश्व में कहीं पर भी कोई मुद्रा का प्रचलन नहीं था बल्कि लोग वस्तु विनियम किया करते थे उस समय बदलता रहा और लोगों ने अपनी अपनी मुद्राएं जैसे भारत में रुपया यूरोप में यूरो अमेरिका में डॉलर चलता है लोगों ने अपने हिसाब से अपनी अपनी मुद्राएं बनाएं ऐसा ही कुछ Cryptocurrency  के साथ में भी है

जी हां दोस्तों Cryptocurrency  आज से 10 – 12 साल पहले अस्तित्व में आया और लोगों के नजरों में आया Cryptocurrency  भविष्य में और भी ज्यादा प्रॉफिट दिखाई दे रहा है

Cryptocurrency क्या है लोग आज Cryptocurrency  में इन्वेस्ट करके लाखों करोड़ों रुपए कमा रहे हैं जिसकी Cryptocurrency  की कीमत आज से 10 साल पहले कुछ कौड़ियों की हुआ करती थी उसी Cryptocurrency  जैसे Bitcoin एथेरियम की कीमत आज लाखों में है Bitcoin की कीमत वर्तमान समय में 4 लाख सर पर से ऊपर है एथेरियम की कीमत आज 7 लाख और 8 लाख तक है कभी-कभी आपके मन में भी यह प्रश्न उठा होगा कि

Cryptocurrency  

Cryptocurrency क्या है Cryptocurrency  काम कैसे करती है Cryptocurrency के प्रकार, अर्थात Cryptocurrency के कितने प्रकार हैं Cryptocurrency में इन्वेस्ट कैसे करें दोस्तों इस लेख को शुरू से लेकर अंत तक अवश्य पढ़े इसमें आपके Cryptocurrency  से संबंधित सभी प्रश्नों के उत्तर मिल जाएंगे चलिए जानते हैं Cryptocurrency  क्या है Cryptocurrency  के प्रकार 

Cryptocurrency क्या है ? Cryptocurrency काम कैसे करती है | Cryptocurrency के प्रकार

विषय सूची

Cryptocurrency क्या है ? Cryptocurrency Kya hai  

Cryptocurrency क्या है – Cryptocurrency  एक digital currencyहै जो कि डिसेंट्रलाइज्ड तरीके से मैनेज किया जाता है Cryptocurrency  ऑनलाइन वर्ल्ड की एक मुद्रा है जो कि किसी के बस में नहीं होती है यह Blockchain  आधारित मुद्रा होती हैअर्थात Cryptocurrency  की लेनदेन करने के लिए हमें Blockchain  प्रणाली की मदद चाहिए होती है Cryptocurrency  को कंप्यूटर और बड़ी बड़ी मशीन तथा विभिन्न मशीनी एल्गोरिदम के द्वारा मैनेज किया जाता है 

Cryptocurrency  को रखने के लिए हमारे पास में बड़े-बड़े क्रिप्टो वॉलेट होने चाहिए और हम कंप्यूटर और मोबाइल की मदद से  Cryptocurrency  की लेनदेन कर पाते हैं आजकल लोग कंप्यूटर और मोबाइल पर Cryptocurrency  में ट्रेडिंग करके लाखों रुपए कमा रहे हैं 

 

Cryptocurrency Meaning in Hindi – Cryptocurrency का मतलब क्या है 

Cryptocurrency क्या है – Cryptocurrency का मतलब आसान भाषा में कहें तो Cryptocurrency  एक digital currency है अर्थात digital मुद्रा है जो कि कंप्यूटर के एल्गोरिदम पर आधारित होता हैइस पर किसी देश का कोई भी अधिकार नहीं होता है यह डिसेंट्रलाइज अर्थात विकेंद्रीकृत होती है

Cryptocurrency दो शब्दों से मिलकर बना है – Crypto + Currency , Crypto यह शब्द लैटिन भाषा का शब्द होता है जिसका अर्थ होता है छुपा हुआ या छुपी हुई 

Cryptocurrency क्या है -Currency शब्द भी लैटिन भाषा के Currentia शब्द से आया है जिसका अर्थ पैसों से होता है अर्थात जिस का अर्थ Currency या पैसा होता है इस प्रकार मिलकर Crypto + Currency ,एक साथ आकर Cryptocurrency  के हुआ जिसका अर्थ छुपा हुआ रुपया आया छुपा हुआ मुद्रा होता है 

 

Cryptocurrency काम कैसे करती है | Cryptocurrency  के कार्य 

Cryptocurrency  क्रिप्टो वॉलेट में रखी जाती है और Cryptocurrency  Blockchain  तकनीक पर अपना कार्य करती है अर्थात जब भी Bitcoin से कोई भी ट्रांजैक्शन की जाती है तो वह Blockchain  पर इस ट्रांजैक्शन की  डिटेल दर्ज की जाती है बड़े बड़े पावरफुल  कंप्यूटर के द्वारा तथा कंप्यूटर एल्गोरिथ्म के द्वारा Cryptocurrency  की निगरानी रखी जाती है 

Blockchain  डिस्ट्रीब्यूटर लेदर technology अर्थात डीएलटी technology का उपयोग करती है इसमें जब भी कोई दो पक्ष आपस में लेनदेन करते हैं तो तीसरा पक्ष इस लेनदेन अर्थात ट्रांजैक्शन को देख नहीं पाता है Blockchain  का कोई एक सरवर नहीं होता है अर्थात इसे Blockchain  प्रक्रिया को हजारों सर्वर पर अपलोड किया जाता है जिसे कोई भी व्यक्ति हैक नहीं कर सकता है 

Cryptocurrency  की जानकारियों लेनदेन और उनके मूल्यों तथा उनकी संपूर्ण डिटेल को ब्लॉक  के रूप में हजारों सर्वर पर अपलोड किया जाता है जिसे कोई भी व्यक्ति बदल नहीं सकता है क्योंकि इसका Database भी अलग-अलग सर्वर पर होता है

 

पहली Cryptocurrency किसने बनाई | Cryptocurrency का निर्माण किसने किया 

Cryptocurrency क्या है – Cryptocurrency  का इतिहास बहुत पुराना नहीं है बल्कि आज से कुछ साल पुराना है वर्ष 1963 में पहली Cryptocurrency  बनाई गई थी लेकिन पहली आधुनिक Cryptocurrency  का निर्माण 2009 में हुआ था यह आज की Cryptocurrency  Bitcoin सर्वाधिक प्रसिद्ध Cryptocurrency   में से एक है Bitcoin का निर्माण जापान के एक नागरिक सतोशी नाकामोतो ने किया था आज तक कोई भी व्यक्ति इसे नहीं जानता है 

सन 2009 में इसे एक open-source की तरह इस्तेमाल किया गया उस समय Bitcoin की कीमत $1 में लगभग 10 से 20 Bitcoin आ जाया करते थे लेकिन आज के समय एक Bitcoin की कीमत लगभग ₹45 लाख से ऊपर है इसकी कीमत घटती बढ़ती रहती है

 

Cryptocurrency  का इतिहास | Cryptocurrency  हिस्ट्री

  • Cryptocurrency  की दुनिया में सर्वप्रथम सन 1963 में अमेरिकी क्रिप्टोग्राफर डेविड चाउम  ने इस इलेक्ट्रॉनिक currencyकी कल्पना की थी जिस पर किसी सरकार किसी देश और किसी भी व्यक्ति का अधिकार ना हो सके 
  • सन 1965 में उसने इस इलेक्ट्रॉनिक करंसी का निर्माण किया अर्थात Cryptocurrency  निर्माण किया लेकिन नेशनल सिक्योरिटी एजेंसी ने एनक्रिप्टेड Cryptocurrency  निर्माण की सारी तकनीक को रोक दिया गया 
  • सन 1998 में अमेरिकी मैगजीन में एक लेख प्रकाशित हुआ जिसमें Cryptocurrency  के बारे में वर्णन था उसी समय एक इलेक्ट्रॉनिक गोल्ड का निर्माण किया गया इसका ज्यादा प्रचलन नहीं हो सका क्योंकि उस समय तकनीक इतनी उत्तम नहीं थी 
  • सन 2009 में Bitcoin को ओपन सोर्स Cryptocurrency  के रूप में लॉन्च कर दिया गया और उस समय तक Cryptocurrency  दुनिया की पहुंच में जा चुका था और लोगों ने Cryptocurrency  को खरीदा और अब  उस की खरीद बिक्री कर के लोगों ने करोड़ों रुपए कमाए 

 

Cryptocurrency कितने प्रकार की होती है – Cryptocurrency के प्रकार 

Cryptocurrency क्या है – Cryptocurrency कितने प्रकार की होती है – अधिकतर Cryptocurrency  या ब्लॉकचेन technology पर आधारित होती है कई सारी अन्य Cryptocurrency  अभी होती हैं जो कि अपना ही एक अलग महत्व रखती है उनके अलग-अलग मूल्य और उनके निर्माण की विधि के आधार पर Cryptocurrency  या कई प्रकार की होती हैं जिनका मार्केट रेट बहुत ऊपर नीचे होता है 

वैसे तो Cryptocurrency  बहुत सारी होती है लेकिन कुछ मुख्य Cryptocurrency  की सूची दी गई है Cryptocurrency के प्रकार 

  • Bitcoin (BTC )
  • Ethereum (ETH)
  • Binance coin (Bnb )
  • Tether (Usdt )
  • Solana 
  • Cardano 
  • USD coin 
  • Xrp 
  • Polka Dot 
  • Terra 

वर्तमान समय में इन Cryptocurrency  ओ में सर्वाधिक उत्तल पुथल है और लोग इन Cryptocurrency  में इन्वेस्ट करके अच्छा पैसा कमा रहे हैं 

Cryptocurrency क्या है

Cryptocurrency Value – Cryptocurrency का Value कितनी है 

Cryptocurrency क्या है – Cryptocurrency Value – किसी भी क्रिप्टो currencyकी Value फिक्स नहीं होती है अर्थात किसी भी Cryptocurrency की Value या मूल्य फिक्स नहीं होता है यह समय समय पर बदलता रहता है जैसे कि आप जानते हो किसी को हम नकदी के रूप में यूज नहीं कर सकते हैं केवल उसका उपयोग ऑनलाइन लेनदेन किसी को पेमेंट करने और किसी वस्तु को खरीदने के लिए ऑनलाइन तरीके से करते हैं

 आज के समय Cryptocurrency में लोग जाकर इन्वेस्ट करते हैं और Cryptocurrency में ट्रेड करके लोग करोड़ों रुपए कमा रहे हैं क्रिप्टो currencyकी Value की बात करें तो यह फिजिकल currencyकी Value से कहीं ज्यादा है आज एक Cryptocurrency  की Value जैसे एक Bitcoin का मूल्य लगभग 48 लाख रुपए है तो ऐसे में जिसके पास हजार Bitcoin है वह आज के समय अरबपति बन चुका है इस प्रकार की कृषि की Value ऊपर नीचे होती रहती है और क्रिप्टो मार्केट और भी ज्यादा फल फूल रहा है 

Cryptocurrency क्या है

Top Cryptocurrency  – Top Cryptocurrency List

  • Bitcoin (BTC) :- Cryptocurrency  में जो सबसे पहली और सबसे अधिक प्रसिद्ध हैं वह हैं Bitcoin जी हां Bitcoin दुनिया में सबसे ज्यादा उपयोग की जाने वाली Cryptocurrency  है. जिसका निर्माण साल 2009 में सतोशी नाकामोटो ने किया था.

 

  • Ethereum(ETH) :- यह Cryptocurrency  का दूसरा प्रकार हैं, यह भी Blockchain  पर आधारित एक ओपन सोर्स Decentralized कंप्यूटिंग प्लेटफॉर्म हैं. इस Cryptocurrency  के संस्थापक Vitalic beuteriun  है. इसमें एक digital टोकन का उपयोग किया जाता हैं, जोकि ईथर कहलाता है. इस Cryptocurrency  के 2 वर्जन है पहला Ethereum (ईटीएच) एवं दूसरा Ethereum classic (ईटीसी). यह भी काफी प्रसिद्ध हुई है.

 

  • Litecoin (LTC) :- Lite Coin भी Bitcoin की तरह ही हैं, जोकि Decentralized  भी हैं और साथ ही Peer to peer technology के तहत कार्य करती हैं. Lite Coin का प्रचलन साल 2011 के अक्टूबर महीने से शुरू हुआ था इस Cryptocurrency  को चार्ल्स ली द्वारा शुरू किया गया था, जोकि उस दौरान एक गूगल कंपनी के एम्प्लोई थे. इसमें जब माइनिंग की प्रक्रिया होती हैं, तो उसमें script Algorithm उपयोग होता है.

 

  • Dogecoin (Doge) :- इसकी शुरुआत इस तरह से की गई, कि जब Bitcoin प्रचलन में था, तो उस दौरान Dogecoin ने इसकी तुलना एक कुत्ते से कर दी थी. किन्तु बाद में यह खुद एक Cryptocurrency  बन गई. इसके संस्थापक बिली मर्कस जी थे. आज के समय में इस Cryptocurrency  की कीमत लगभग 197 मिलियन डॉलर से भी अधिक हैं. साथ ही इसमें माइनिंग भी जल्दी हो जाती है.

 

  • Fair coin (Fair) :- Blockchain  technology का उपयोग Fair नामक Cryptocurrency  में भी किया जाता हैं, जोकि अन्य Cryptocurrency  की तरह ही हैं. लेकिन इसकी डिजाइन सामाजिक रूप से रचनात्मक है. इसमें Coin को सत्यापित करने के लिए Proof of Corporation का उपयोग किया जाता है.

 

  • Dash (Dash) :- यह दो शब्दों को मिलाकर बनाया गया हैं वह है digital एवं कैश. यह Cryptocurrency  सबसे ज्यादा प्रसिद्ध Cryptocurrency  Bitcoin की तुलना में ज्यादा अच्छी विशेषताओं के साथ शुरू की गई है. इसमें सुरक्षा को अन्य Cryptocurrency  की तुलना में ज्यादा महत्व दिया जाता है. इसमें इस तरह की technology एवं Algorithm का उपयोग किया जाता है जिससे इसमें जुड़ने वाले लोग स्वयं की माइनिंग कर सकते हैं

 

  • Peercoin (PPC) :- Peercoin नामक Cryptocurrency  अपने नाम के अनुसार Peer to peer  Cryptocurrency की तरह ही हैं. इसमें जिस Algorithm का उपयोग किया जाता हैं वह हैं एसएचए-256, और इसमें लेनदेन करने के लिए या फिर माइनिंग प्रक्रिया के लिए ज्यादा पॉवर की आवश्यकता नहीं होती है

 

  • Ripple (Xrp) :- इस Cryptocurrency  को सन 2012 में लाया गया था, जोकि डिस्ट्रिब्यूटेड ओपन सोर्स प्रोटोकॉल पर आधारित है. इसकी आज की कीमत लगभग 10 मिलियन डॉलर तक की हैं

 

  • Monero (Xmr) :- यह Cryptocurrency का अंतिम प्रकार हैं जोकि सन 2014 में शुरू किया गया था. यह सभी तरह की प्रणाली पर कार्य करती हैं. और साथ ही Bitcoin की तरह ही हैं इस Cryptocurrency  में लेन-देन होता है और इन्वेस्टर के पैसे कमाए जाते हैं 

Cryptocurrency  market – Cryptocurrency market क्या है 

Cryptocurrency क्या है – Cryptocurrency  मार्केट अर्थात एक ऐसा बाजार जहां पर Cryptocurrency  की खरीद बिक्री या खरीद-फरोख्त होती हो कृषि मार्केट ऑनलाइन मार्केट होता है यह किसी प्रकार का कोई अस्तित्व वाला मार्केट नहीं है अर्थात यह फिजिकल रूप में स्थित नहीं होता है 

आप Cryptocurrency  मार्केट से बिटकॉइन एथेरियम डॉग कॉइन जैसे Cryptocurrency  को खरीद सकते हैं और  भेज सकते हैं Cryptocurrency  मार्केट में Cryptocurrency  एक्सचेंज इनकी  खरीद बिक्री करवाते हैं यह फिजिकल मुद्रा को एक्सेप्ट नहीं करते हैं इनकी पेमेंट हमें ऑनलाइन रूप से करनी होती है 

Cryptocurrency क्या है ? Cryptocurrency काम कैसे करती है | Cryptocurrency के प्रकार

Cryptocurrency Exchange – Cryptocurrency Exchange क्या है 

Cryptocurrency  एक्सचेंज Cryptocurrency  मार्केट के अंदर एक महत्वपूर्ण स्थान रखता है यह कुछ स्टॉक एक्सचेंज की तरह ही होता है जहां पर विभिन्न कंपनियों के स्टॉक को लिस्ट किया जाता है इसी प्रकार अन्य Cryptocurrency Coins  को Cryptocurrency एक्सचेंज ओपन लिस्ट किया जाता है जहां पर कोई भी व्यक्ति आसानी से Cryptocurrency  खरीद बिक्री कर सके और लाभ उठा पाए ,Cryptocurrency क्या है 

Top cryptocurrency Stock Exchange List 

  1. Binance 
  2. Coinbase exchange 
  3. Ftx 
  4. Kraken 
  5. Crypto.com Exchange 
  6. Kucoin 
  7. Huobi global 
  8. Bitfinex 
  9. Gemini 
  10. Binance.us

Cryptocurrency exchange के बारे में जानने के लिए विजिट करें –  कॉइन मार्केट कैप 

 

Indian Cryptocurrency Market – भारत में Cryptocurrency  Market 

Cryptocurrency  मार्केट इन इंडिया – भारत में Cryptocurrency  मार्केट  – भारत में कृपया करेंसी का मार्केट अभी-अभी उभरा है और लोग Cryptocurrency  में इन्वेस्ट कर रहे हैं लोग Cryptocurrency  को खरीद कर ट्रेडिंग कर रहे हैं लोग इन्वेस्टमेंट के बारे में काफी जागरूक हुए हैं और वह इंटरनेशनल Cryptocurrency  एक्सचेंज पर इन्वेस्ट कर रहे हैं 

Bitcoin, Dogecoin Ethereum Ethereum classic इत्यादि Cryptocurrency  पर भारतीय लोग अपना पैसा लगाते हैं और इन्वेस्टमेंट करते हैं भारत में Cryptocurrency   मार्केट और भी संभावनाएं लिए हुए हैं 

 

Indian Cryptocurrency Exchange – भारतीय Cryptocurrency  Exchange

Indian Cryptocurrency Exchange – भारत में अभी Cryptocurrency  का चलन थोड़ा बहुत बड़ा है और मार्केट भी काफी ज्यादा ग्रोथ हुआ है तो ऐसे में भारतीय Cryptocurrency मार्केट में क्रिप्टो एक्सचेंज ज्यादा नहीं है फिर भी कुछ मुख्य Cryptocurrency एक्सचेंज Indian Cryptocurrency Exchange  निम्नलिखित है 

  • Coin dcx 
  • Wazirx
  • Coinswitch Kuber 
  • uno coin 
  • Bits BNS 

भारतीय Cryptocurrency  मार्केट में अभी काफी ज्यादा असंतुलन की स्थिति पैदा हुई है क्योंकि भारतीय सरकार Cryptocurrency के लिए बिल लाने जा रही है उस बिल में कुछ भी हो सकता है 

Cryptocurrency  के फायदे और Cryptocurrency  के नुकसान 

 

Crypto currency  के फायदे – Advantage of Crypto currency  In Hindi 

  • Cryptocurrency  किसी भी देश के अधीन नहीं होती है यह अपने आप में स्वतंत्र होती है
  •  मुद्रा में आप कुछ भी खरीदार कर सकते हो अपने घर बैठे ऑनलाइन
  •  Cryptocurrency  के माध्यम से आप ऑनलाइन ट्रांजैक्शन कर सकते हो वह भी किसी अतिरिक्त शुल्क के
  • यह एक Cryptocurrency  होती है इसमें धोखाधड़ी के बहुत ही कम चांस होते हैं
  • इसके प्राइस में में हर पल बढ़त होती रहती है जिससे कि  उपयोगकर्ता को काफी ज्यादा फायदा हो जाता है
  • यह Cryptocurrency  हमें एक वॉलेट के रूप में मिलती है जिसके चलते हम ऑनलाइन खरीदारी बढ़ी आराम से कर सकते हैं
  •  Cryptocurrency  से सबसे बड़ा फायदा उनका होता है जो अपने धन को छुपा के रखना चाहते हैं वह अपने धन को इस डिजिटल करंसी के रूप में छुपा कर रख सकते हैं इस पर कोई सरकार की निगरानी नहीं रहती है और इस पर कोई भी कंट्रोल नहीं रहता है
  •  डिजिटल करंसी पर सरकार के नियंत्रण ना होने के कारण इसके अचानक बंद हो जाने का भी कोई सवाल नहीं है
  • डिजिटल करंसी का उपयोग अर्थात लेनदेन करने के लिए एक निश्चित प्रक्रिया से गुजरना पड़ता है इसके बिना Cryptocurrency  से लेन देन नहीं होता है

 

Crypto currency के नुकसान – Disadvantage of Crypto currency 

  • Cryptocurrency  का सबसे बड़ा नुकसान यह है कि  इसका कोई अस्तित्व नहीं है यह सिर्फ एक वर्चुअल करेंसी होती है
  • Cryptocurrency  को कोई भी सरकार अपने आवश्यकतानुसार नहीं छाप सकती इसका मुद्रण एक निश्चित संख्या तक हो सकता है
  •  डिजिटल करंसी पर नियंत्रण रखने के लिए कोई भी संस्था नहीं है ऐसे में इसका हिसाब किताब उपयोगिता को रखना पड़ता है और सरकार की कोई जवाबदारी नहीं होती
  • इसकी कीमतों में अचानक ही बढ़ोतरी हो सकती है और अचानक ही बहुत ही ज्यादा गिरावट आ सकती है ऐसे में इस में निवेश एक जोखिम पूर्ण कार्य हो सकता है
  • Cryptocurrency  का उपयोग देश विरोधी गतिविधियों भी किया जा सकता है जैसे कि हथियारों की खरीद-फरोख्त और और अन्य नशीली पदार्थों का
  • Cryptocurrency  के माध्यम से हमारे देश में कालाबाजारी को बढ़ावा मिलेगा और जो कर सरकार के पास जाना चाहिए वह नहीं जा पाएगा
  • Cryptocurrency  के हैकिंग होने का भी खतरा होता है और आपका इस पर नियंत्रण नहीं हो सकता है
  •  Cryptocurrency  के  लेन-देन में यदि आप किसी गलत खाते में ट्रांसफर कर देते हैं तो आप इसे वापस नहीं  ला सकते हो क्योंकि इस पर किसी का नियंत्रण नहीं है

Cryptocurrency क्या है ? Cryptocurrency के प्रकार – निष्कर्ष 

दोस्तों इस लेख को शुरू से लेकर अंत तक करने के लिए धन्यवाद अभी तक इस लेख में आपने जाना कि Cryptocurrency क्या है Cryptocurrency  काम कैसे करती है Cryptocurrency के प्रकार, अर्थात Cryptocurrency के कितने प्रकार हैं Cryptocurrency में इन्वेस्ट कैसे करें 

आशा करता हूं कि आपको यह लेख अच्छा लगा होगा और इससे आपको कोई ना कोई महत्वपूर्ण जानकारी मिली होगी दोस्तों इस लेख को अपने दोस्तों व्हाट्सएप ग्रुप में अवश्य शेयर करें जिससे उन्हें भी इस महत्वपूर्ण जानकारी की प्राप्ति हो 

Frequently asked question  – अक्सर पूछे जाने वाले प्रश्न 

 

Cryptocurrency क्या है

Cryptocurrency  एक डिजिटल मुद्रा है जिसके ऊपर किसी भी देश किसी सरकार तथा किसी व्यक्ति कोई अधिकार नहीं होता है इन्हें बड़े-बड़े कंप्यूटर की मदद से निगरानी में रखा जाता है क्रिप्टो करेंसी में इन्वेस्ट कर के लोगों ने लाखों रुपए कमाए

भारत में Cryptocurrency कैसे खरीदें

भारत में Cryptocurrency  खरीदने के लिए आपको Cryptocurrency  एक्सचेंज के एप्लीकेशन पर लॉगिन होना है और अपनी केवाईसी कराने के बाद क्रिप्टो वॉलेट क्रिएट होने के बाद  Cryptocurrency  खरीद सकते हैं
Coin dcx 
Wazirx
Coinswitch Kuber 
uno coin 
Bits BNS 

India की Cryptocurrency कौन सी है

India की अभी तक अपनी कोई भी Cryptocurrency  नहीं है भारत में Cryptocurrency  के ऊपर अभी सोच विचार चल रहा है ऐसे में भारत की अपनी कोई Cryptocurrency नहीं है

सबसे पहले Cryptocurrency कौन सी है

2009 में बिटकॉइन के अस्तित्व में आने के बाद से ही क्रिप्टो करेंसी मार्केट में भारी ग्रोथ देखने को मिली है तो ऐसे में सबसे पहली Cryptocurrency  बिटकॉइन को ही माना जाता है जो कि आम लोगों की पहुंच में थी और लोगों ने इस में इन्वेस्ट किया और इसके माध्यम से लेनदेन किया

Cryptocurrency काम कैसे करता है

Cryptocurrency  ब्लॉकचेन टेक्नोलॉजी के ऊपर कार्य करती है ब्लॉकचेन टेक्नोलॉजी के अंतर्गत Cryptocurrency  का टाटा को ब्लॉक के अंदर रखा जाता है और इन्हें अलग-अलग सर्वर पर अपलोड किया जाता है इन को हैक करना बहुत मुश्किल है क्योंकि व्यक्ति एक सर्वर को ही हैक कर पाएगा लेकिन ब्लॉकचेन हजारों सरवर पर कार्य करता है 

Cryptocurrency का क्या रेट है

क्रिप्टो करेंसी क्या रेट का कोई फिक्स नहीं होता है क्योंकि क्रिप्टो करेंसी का रेट समय-समय पर बदलता रहता है आज से 10 साल पहले एक बिटकॉइन की कीमत कुछ एक से $2 थी जबकि आज एक बिटकॉइन कीमत ₹4800000 है ऐसे ही अन्य Cryptocurrency  हो की कीमत का कोई अंदाजा नहीं है इनकी कीमतों में कभी उछाल आ सकता है

क्या भारत में Cryptocurrency लीगल है 

भारत में अभी तक Cryptocurrency  लीगल नहीं है भारत सरकार संसद में Cryptocurrency  के ऊपर बिल लाने जा रही है हालांकि लोग अभी भी भारत में Cryptocurrency  में निवेश करते हैं भारत में Cryptocurrency  पर रोक नहीं है लेकिन भारत सरकार अभी तक इस पर विचार कर रही है

सबसे सस्ती Cryptocurrency कौन सी है

सबसे सस्ती कृपया कौन सी की श्रेणी में बहुत सारे एनएफटी कॉइन आते हैं उनकी श्रेणी काफी बड़ी है उनमें से कुछ सबसे सस्ते Cryptocurrency  निम्नलिखित है 
Shiba inu coin
Dogecoin 
Tron 
Cardano
 
इनकी मार्केट कैप और इनकी प्राइस कभी भी ऊपर नीचे हो सकती है तो ऐसे में सबसे सस्ती क्रिप्टोकरंसी के बारे में कह नहीं सकते हैं यह समय पर निर्भर होता है

About Dhirendra singh

मेरा नाम Dhirendra Singh Bisht है और मैं इस Technet ME फाउंडर और owner हूं , दोस्तों मैंने अभी अपनी डिग्री पूरी की है और मुझे लोगों की समस्याओं का हल करना अच्छा लगता है और मुझे लोगों को नई नई चीजें सिखाने में और Technology Business Banking ,Marketing के बारे में अच्छी जानकारी है

Leave a Comment