Cross cheque क्या होता है – Cross cheque  कैसे भरें 

Cross cheque क्या होता है ,Cross cheque kya hai In Hindi , Cross cheque meaning in Hindi , Cross cheque in Hindi Cross cheque  कैसे भरें – आज के इस आधुनिक समय में पेमेंट की सुविधा पहले से अच्छी हो चुकी है लेकिन Bank cheque  से होने वाली पेमेंट में अभी भी बदलाव नहीं आया है हालांकि पहले से थोड़ा फास्ट हो चुका है अभी भी बड़ी-बड़ी पेमेंट है खासतौर से बड़ी उद्योगपति और बिजनेसमैन Bank cheque  में ही लेनदेन करते हैं 

Cross cheque क्या होता है दोस्तों आज के टाइम Bank account, Cheque book, जैसी बातें Normal हो चुकी हैं लेकिन लोग अभी भी Cross cheque  पेमेंट, cancle cheque  , जैसी बातों से अभी भी अनभिज्ञ है  क्योंकि इनका बहुत ही कम उपयोग किया जाता है जब भी यह आपके सामने आते होंगे तो आप अवश्य सोचते होंगे कि 

Cross cheque kya hai In Hindi  – What is cross cheque in Hindi   – Cross cheque  कैसे भरे ,क्रॉस चेक के फायदे क्रॉस  , Cross cheque  कितने प्रकार के होते हैं – Types of cross cheque  दोस्तों इस लेख को शुरू से लेकर अंत तक पढ़े इसमें आपको क्रॉस चेक के बारे में पर्याप्त जानकारी प्राप्त होगी चलिए जानते हैं 

Cross cheque होता है - Cross cheque  कैसे भरें 
Cross cheque होता है – Cross cheque  कैसे भरें

Cross cheque क्या होता है – What is cross cheque in Hindi 

Cross cheque kya hai In Hindi   – क्रॉस चेक कोई विशेष चेक नहीं होता है बल्कि यह एक सामान्य से एक ही होता है जिसके ऊपरी हिस्से में दो आड़ी रेखाएं खींच दी जाती है उसे रेखांकित चेक या क्रॉस चेक कहते हैं सामान्य शब्दों में क्रॉस चेक का मतलब यह होता है 

Cross cheque kya hai In Hindi  के द्वारा काउंटर से कैश नहीं निकाल सकता है कि चेक धारी जो चेक को लेता है वह चेक  के द्वारा अदा की गई राशि को नगद नहीं निकाल सकता है बल्कि वह अपने अकाउंट में ही ट्रांसफर कर सकता है 

 

Cross cheque  की आवश्यकता क्यों हुई  – Cross cheque need in Hindi 

cross cheque in Hindi – की आवश्यकता है इसलिए हुई की बीयर चेक जिसमें चेक धारी अपना पेमेंट बैंक में जाकर कैश निकलवा सकता है कैश काउंटर पर सिर्फ जिसके नाम का चेक कटा है उसे ही कैसे मिलता है जबकि कभी कभी ऐसा हो जाता है कि जिसके नाम का चेक कटा है उसका चेक गुम जाए तो कोई भी जाकर कैश निकलवा सकता है इसी समस्या को दूर करने के लिए cross-cheque  की आवश्यकता हुई है 

क्रॉस चेक बहुत ही सुरक्षित होता है क्योंकि यदि एक चेक क्रॉस हो जाए तो उसे कैस नहीं निकलवा सकते हैं बल्कि जिसके नाम का चेक घटा है उसके अकाउंट में ही पैसे ट्रांसफर किए जा सकते हैं यह पेमेंट लेन-देन का बहुत ही सुरक्षित माध्यम है 

 

Cross cheque  काम कैसे करता है  – Crosscheck function in Hindi

दोस्तों जब भी आप किसी को क्रॉस चेक देते हैं या आपको कभी भी क्रॉस चेक प्राप्त होता है तो उस चेक के आगे के बाएं हिस्से में दो तिरछी लाइनें खींची हो सकती है और उनके बीच में कुछ लिखा हुआ भी हो सकता है या नहीं लिखा हुआ भी हो सकता है 

A/C PAYEE या No नेगोशिएबल इनमें से कुछ भी लिखा हुआ हो सकता है क्रॉस चेक धारी या प्राप्त करने वाला है अभी बैंक में उस चेक को लेकर जाता है तो कैश काउंटर पर बैठने वाला देख कर समझ जाता है कि उस चेक के माध्यम से उस व्यक्ति को पैसे नगद नहीं देने हैं बल्कि उसके अकाउंट में ही जमा कर देने हैं मतलब क्रॉस चेक से पेमेंट नगद नहीं देना है बल्कि उसके अकाउंट में जमा कर देना होता है 

 

Cross cheque  कैसे भरें  – How to cross a cheque in Hindi 

दोस्तों cross cheque  कोई विशेष चेक नहीं होता बल्कि है एक सामान्य ही चेक होता है cross cheque  भरने के लिए आपको निम्नलिखित कदम उठाने पड़ सकते हैं चलिए जानते हैं

  •  सर्वप्रथम आपके बैंक द्वारा दिए गए चेक बुक से एक चेक का पन्ना ले 
  • उस चेक के पन्ने पर जिसको भी पेमेंट करनी है उसके बारे में पर्याप्त जानकारी भरें जैसे उसका नाम अकाउंट नंबर इत्यादि 
  • उस चकवे बनने पर आपको अमाउंट  अंको में और शब्दों में दोनों में ही लिखना है और अंत में अपने साइन अर्थात हस्ताक्षर करने हैं 
  • दोस्तों अब चेक के बाएं तरफ आपको दो लाइनें कृषि खींचनी होगी और उनके बीच में आप कुछ भी लिख सकते हो या नहीं भी लिख सकते हो 

 इस प्रकार अब आपका एक क्रॉस चेक तैयार हो चुका है और आप इसे किसी को भी दे सकते हो 

 

Cross cheque  के प्रकार  – Types of cross cheque in Hindi 

दोस्तों क्रॉस चेक के प्रकार कुछ निम्नलिखित है चलिए जानते हैं टाइप्स ऑफ क्रॉस चेक इन हिंदी

  • जनरल क्रॉस चेक -(General cross cheque ) 

क्रॉस चेक एक सामान्य चेक होता है जिसके बाई तरफ दोस्ती लाइने खींच दी जाती है और उसके बीच में कुछ लिखा हुआ हो भी सकता है या नहीं भी हो सकता है तथा यह चेक आप परी को दे सकते हो और यह चेक को लेनदार नकद नहीं निकाल सकता है इसको सिर्फ अकाउंट में ही ट्रांसफर कर सकता है 

 

  • Account payee  क्रॉस चेक 

किसी भी चेक को क्रॉस करने पर उसकी सुरक्षा बढ़ जाती है क्रॉस चेक को लेकर कोई भी अकाउंट से नकद नहीं निकाल सकता है बल्कि इसे केवल अकाउंट में ट्रांसफर कर सकता है अगर उस चेक में अकाउंट पर ही लिखा हुआ होता है तो उस चेक को केवल वही व्यक्ति  अपने अकाउंट में ट्रांसफर ले सकता है जिसके लिए वह बैंक चेक  कटा हुआ होता है 

 

  • No negotiable cross Cheque 

दोस्तों यदि आपको कभी नो निगेटिव व क्रॉस चेक मिल जाए तो उसकी अच्छी तरह जांच पड़ताल करने के बाद ही उस चेक को बैंक में ले जाकर रिडीम करवाएं क्योंकि इस  बैंक चेक में यदि किसी प्रकार की धोखाधड़ी हुई है तो उसमें आप को भी शामिल कर लिया जाएगा

 इसलिए आप नों नेगोशिएबल क्रॉस चेक की अच्छी तरह जांच पड़ताल करवाएं और उसको अपने अकाउंट में ट्रांसफर करवाएं 

 

  • Special cross cheque

दोस्तों स्पेशल क्रॉस चेक कोई स्पेशल चेक नहीं होता है बल्कि यह एक विशेष चेक होता है जिस पर चैट क्रॉस करने वाला व्यक्ति उस चेक पर बैंक का नाम लिख दे तो वह केवल उसी बैंक में जाकर ही रिडीम हो सकता है 

दोस्तों यदि आपको भी स्पेशल क्रॉस चेक मिल चुका है और उस पर लिखे गए बैंक के अंदर आपका अकाउंट नहीं है तो आप एक नया चेक ले सकते हो जिस पर आपके बैंक का नाम हो उस में पेमेंट ट्रांसफर करने में बहुत ही आसानी होती है 

 

Conclusion 

दोस्तों अभी तक आपने जाना की Cross cheque  क्या है – What is cross cheque in Hindi   – Cross cheque  कैसे भरे ,क्रॉस चेक के फायदे क्रॉस  , Cross cheque  कितने प्रकार के होते हैं – Types of cross cheque 

आशा करता हूं कि आपको यह लेख अच्छा लगा होगा और आपको इससे परे आप जानकारी मिली होगी दोस्तों यदि आप अपनी राय इतना चाहते हो नीचे कमेंट बॉक्स में कमेंट अवश्य करें इस लेख को सोशल मीडिया अर्थात फेसबुक व्हाट्सएप पर शेयर अवश्य करें 

About Dhirendra singh

मेरा नाम Dhirendra Singh Bisht है और मैं इस Technet ME फाउंडर और owner हूं , दोस्तों मैंने अभी अपनी डिग्री पूरी की है और मुझे लोगों की समस्याओं का हल करना अच्छा लगता है और मुझे लोगों को नई नई चीजें सिखाने में और Technology Business Banking ,Marketing के बारे में अच्छी जानकारी है

Leave a Comment