Bull and Bear market क्या होता है ? – Bull and Bear Market Meaning in Hindi | तेजड़िया और मंदड़िया क्या है

Bull and Bear market क्या होता है ? – Bull and Bear Market Meaning in Hindi | तेजड़िया और मंदड़िया क्या है, (what is Bull and Bear market in hindi)  share market दोस्तों जब भी आप किसी शेयर बाजार के बारे में खबर सुनते हो तो  आप Bull मार्केट और Bear मार्केट के बारे में अवश्य सुनते होंगे ,  कि आज  शेयर बाजार में तेजडीय ( Bulls) का प्रभाव ज्यादा रहा इसलिए मार्केट ऊपर चला गया

और कई अन्य दिन  आज  शेयर बाजार में मंदडियो (Bears)  का प्रभाव ज्यादा रहा इसलिए शेयर मार्केट में मंदी बनी रही दोस्तों क्या आप जानते हो  कि शेयर मार्केट के अंदर Bull and bear market in  share market in Hindi क्या होता है What is difference between Bull market and bear market ine Hindi और  भारतीय शेयर मार्केट पर Bulls और Bears का क्या प्रभाव पड़ता है चलिए जानते हैं Understanding  what is bull and bear market in Hindi

Bull and Bear market क्या होता है ?  - Bull and Bear Market Meaning in Hindi

Bull and Bear market क्या होता है – तेजड़िया और मंदड़िया क्या है

दोस्तों जैसा कि आप जानते हो हर किसी अलग-अलग मार्केट के अलग-अलग भाषा होती है  ऐसे ही शेयर मार्केट में भी अपनी एक अलग ही भाषा होती है जिसमें हम बाजार के हालातों के बारे में बातें करते हैं  जैसे BULL  अर्थात तेजडीय और  मंदड़ीय अर्थात Bear 

यह दोनों शब्द समय-समय पर  शेयर मार्केट में प्रयोग में लाए जाते हैं जैसा कि इनके नाम से मालूम पड़ता है Bull  शब्द का प्रयोग उस समय किया जाता है जब  शेयर मार्केट में काफी ज्यादा चढ़ावा आता है

Bear  शब्द का प्रयोग किया जाता है जब शेयर मार्केट में काफी यदि मंदी आ जाती है 

दोस्तों यह सारा खेल  शेयर मार्केट में बैठे हुए   share market के  बड़े खरीदारों और बड़े seller  के बीच का होता है  यह लोग शेयर मार्केट को बड़े ही ज्यादा रूप में प्रभावित करते हैं  जब चाहे शेयर मार्केट में बदलाव ला सकते हैं

जब भी यह लोग अपने सारे शेयरों को मार्केट में बेच देते हैं तब मार्केट में मंदी आ जाती है और जब यह लोग सारे शेयरों को मार्केट से खरीद लेते हैं तब मार्केट लड़ाई में आता है

इसी प्रक्रिया को बुल मार्केट और Bear  मार्केट कहा गया है

 

 

Bull market kya hai in Hindi  : What is bull market in Hindi 

दोस्तों जब शेयर मार्केट में अचानक से वृद्धि होती है या  शेयर मार्केट  के अंदर काफी ज्यादा चढ़ाव होता है उस समय  सारे लोग  शेयर मार्केट से किसी भी कंपनी के शेयरों को खरीद रहे होते हैं जिसके कारण मार्केट में शेयरों का अभाव हो जाता है उसी के चलते हैं

कंपनी के शेयरों की कीमत बहुत ही ज्यादा बढ़ जाती है और लोगों को काफी ज्यादा मुनाफा भी होता है और कई लोगों को घटा भी हो जाता है तो ऐसे में इसे Bull  मार्केट की संज्ञा दी गई है अर्थात BUll  मार्केट कहा जाता है

किसी भी शेयर मार्केट में Bull  की प्रक्रिया अर्थात चुनाव की प्रक्रिया को अचानक घटना नहीं होती है यह एक धीमी धीमी प्रक्रिया होती है जो कि एक लंबे समय की  प्रक्रिया है

जब भी शेयर मार्केट में  कंपनी के शेयरों की कीमतें बढ़ने लगती है अर्थात मार्केट चढ़ाई में होता है तब अगले दिन सेंसेक्स और निफ्टी को Bull ग्राफ के साथ चित्र किया जाता है

 

bull market meaning in hindi – bull market in hindi

bull market बाजार एक Share market की स्थिति है जिसमें कीमतें बढ़ रही हैं या बढ़ने की उम्मीद है । शब्द “Bull market” का उपयोग अक्सर शेयर बाजार को संदर्भित करने के लिए किया जाता है, लेकिन इसे किसी भी चीज पर लागू किया जा सकता है, जैसे कि बॉन्ड, रियल एस्टेट, मुद्राएं और कमोडिटीज

 

Bear market kya hai  in Hindi :  what is bear market in Hindi 

दोस्तों जब शेयर मार्केट अपनी  पूरी चढ़ाई में होता है तो वहां से वह धीमे-धीमे नीचे आना शुरू होता है अर्थात मंदी का दौर शुरू हो जाता है कंपनी के शेयरों की कीमत घटने लगती है और लोग अपने शेयरों को धड़ाधड़  बेचने लगते हैं

फल स्वरुप शेयर मार्केट में मंदी आ जाती है  दोस्तों शेयर मार्केट के इसी समय को Bear  मार्केट की संज्ञा दी गई है अर्थात Bear  मार्केट कहा गया है  जब शेयर मार्केट बियर की पोजीशन में होता है तब

जो व्यक्ति चढ़ाव में शेयर ले लेता है उन्हें बहुत ही घाटा जाता है कईयों को फायदा भी होता है और यह भी एक लंबी प्रक्रिया होती है अचानक से कोई शेयर कीमत नहीं गिरती है  दोस्तों जब भी  शेयर मार्केट में कंपनियों के शेयरों की कीमतें गिरने लगती है और मार्केट में मंदी आने लगती है  तब सेंसेक्स और निफ्टी को Bear  ग्राफ के साथ में प्रदर्शित किया जाता है

 

Bear market Meaning in Hindi – bear market in hindi

Bear market बाजार एक Share market की स्थिति है जिसमें शेयर की कीमत घटने की उम्मीद है । अगर आपको लगता है कि आने वाले समय में बाजार नीचे की तरफ जाएगा तो कहा जाता है कि आप उस स्टॉक को लेकर बेयरिश (Bearish) हैं ऐसे हालात बियर मार्केट कहलाता है

 

Bull  market and Bear market in hindi  दोनों जानवरों के स्वभाव के आधार पर

दोस्तों Bull  मार्केट और Bear मार्केट दोनों  का नामकरण जानवरों के सुहाग के आधार पर रखा गया है Bull  और Bear  का अपना अलग-अलग स्वभाव होता है और यह आक्रमक होने पर जो रूप लेते हैं  उसी के आधार पर  इस मार्केट का नामकरण किया गया है

जैसे Bull  को गुस्सा आने पर वह अपने सिंह  के द्वारा किसी भी व्यक्ति को या किसी भी वस्तु को ऊपर की ओर उछाल देता है

जबकि Bear  को गुस्सा आने पर या Bear  अपने शिकार को हमेशा ही अपने पंजे के द्वारा मारता है Bear हमेशा अपने पंजे को ऊपर से नीचे की ओर मारता है अर्थात अपने शिकार को ऊपर से नीचे की ओर खींचता है Bear के  इसी स्वभाव के कारण  शेयर मार्केट में इसका नाम शामिल किया गया है

 

Bull Market और Bear market  का सूचक 

दोस्तों जैसा कि आप जानते हो हमारे देश के शेयर मार्केट के दो महत्वपूर्ण सूचकांक है  निफ्टी और  सेंसेक्स  जब इन दोनों  की संख्या में वृद्धि होती है तब इसे हम Bullish  मार्केट की संज्ञा देते हैं

दोस्तों जब  सेंसेक्स और निफ्टी की संख्या में कमी होती है  तब इसे हम Bearish  मार्केट की संज्ञा देते हैं

 

 

Bull Market की पहचान क्या है 

दोस्तों जब शेयर मार्केट में काफी ज्यादा चढ़ाव आ जाए तब ऐसे हालातों में  कंपनियों के शेयर अपने उच्चतम मूल्यों में पहुंच जाते हैं अर्थात कंपनी के  शेयरों  की कीमतों में  अभूतपूर्व वृद्धि हो जाती है

ऐसे समय में उन कंपनियों के शेर भी बहुत ज्यादा महंगे हो जाते हैं  जो पहले कुछ भी नहीं होते अर्थात इनकी कीमत कुछ भी नहीं होती है इस समय इनकी भी कीमतों में बहुत ज्यादा वृद्धि हो जाती है

Bull Market का कारण क्या है

मार्केट में इस चढ़ाव आने का मुख्य कारण होता है कि जितने भी बड़े बड़े खरीदार होते हैं वह मार्केट से सारे शेयरों को खरीद लेते हैं मार्केट में Share की संख्या कम हो जाती है जिसके कारण बेकार से बेकार कंपनी  का शेयर  की कीमत भी बहुत  ज्यादा हो जाती है

इसके अलावा कई बार ऐसा होता है कि कुछ खरीददारों की कंपनियों के शेयरों पर मोनोपोली हो जाती है ऐसे में यह कभी भी मार्केट को बढ़ा सकते हैं और घटा सकते हैं

 

Bear Market की पहचान क्या है 

दोस्तों जब शेयर मार्केट अपने उच्चतम मूल्य में होता है उसके बाद उसका धीरे-धीरे संतुलन स्थिति बनती जाती है अर्थात एक उच्चतम मूल्य पर जाकर वह स्थिर हो जाता है

उसके बाद वह वहां से धीरे-धीरे करके नीचे आना प्रारंभ होता है और निफ्टी और सेंसेक्स का ग्राफ धीरे-धीरे नीचे की ओर लुढ़क जाता है

एक समय ऐसा आता है जब मार्केट में बड़ी-बड़ी कंपनियों के शेयर सस्ते में बिक रहे होते हैं और मार्केट बहुत ही बड़ी मंदी में आ जाता है इस मंदी के कारण कई लोगों को घाटा हो जाता है  लेकिन कई   स्टॉक ट्रेडर को  इस  मंदी से भी फायदा हो जाता है और वह अच्छा मुनाफा कमाते हैं लेकिन लगभग लोगों को घाटा ही होता है यदि वह मंदी से पहले पहले अपने शेयर बेच दे तो अच्छा रहेगा

 

 Bear Market प्रभाव का क्या कारण है 

शेयर मार्केट में मंदी का मुख्य कारण वही बड़े बड़े खरीदार लोग रहते हैं जो कि अपने सारे शेयरों को  उनके उच्चतम कीमतों में मार्केट में उतार देते हैं अर्थात अपने सारे शेयरों को मार्केट में भेज देते हैं जिसके चलते हैं शेयर मार्केट में शेयर बढ़ जाते हैं और उनकी कीमतें घट जाती हैं

Bull Market and Bear Market का  प्रभाव 

दोस्तों जब  शेयर बाजार में बुल मार्केट का प्रभाव रहता है अर्थात जब शेयर मार्केट में शेयर की चढ़ाई होती है तब बहुत लोगों को फायदा होता है और अच्छी इनकम हो जाती है लगभग लोग फायदे में ही होते हैं और Trader  को तो बहुत ही ज्यादा फायदा होता है

भारतीय अर्थव्यवस्था में बुल मार्केट का काफी ज्यादा महत्वपूर्ण होता है जब मार्केट में फूल मार्केट का प्रभाव होता है तब विदेशी मुद्रा का काफी ज्यादा भंडारण हो जाता है  ऐसे में विदेशी इन्वेस्टर भारतीय मार्केट में काफी ज्यादा दिलचस्पी लेते हैं 

लेकिन जब मार्केट के अंदर Bear  मार्केट का प्रभाव रहता है तब बाजार में एकदम अचानक मंदी छा जाती है चारों ओर घाटा ही घाटा  और कंपनी के शेयरों की कीमतें हताशा गिरने लगती हैं  इसका प्रभाव भारतीय अर्थव्यवस्था पर पड़ता है पूरे देश में बेरोजगारी और महंगाई की मार बढ़  जाती है

 

                   CONCLUSION 

 

दोस्तों अभी तक आपने जाना कि Bulls market and bear markets kya hai hi in Hindi,   bulls and bear market in Hindi, इनका प्रभाव क्या रहता है और  इनका निर्धारण कैसे किया जाता है आशा करता हूं कि आप को इस लेख के माध्यम से  बुल मार्केट एंड बियर मार्केट को समझने में आसानी हुई होगी  और समझने में मदद मिली होगी

दोस्तों आप इस लेख को अपने दोस्तों नजदीकी रिश्तेदारों और अपने फ्रेंड्स के ग्रुप्स में अवश्य शेयर करें ताकि उनको भी यह  महत्वपूर्ण जानकारी प्राप्त हो

About Dhirendra singh

मेरा नाम Dhirendra Singh Bisht है और मैं इस Technet ME फाउंडर और owner हूं , दोस्तों मैंने अभी अपनी डिग्री पूरी की है और मुझे लोगों की समस्याओं का हल करना अच्छा लगता है और मुझे लोगों को नई नई चीजें सिखाने में और Technology Business Banking ,Marketing के बारे में अच्छी जानकारी है

Leave a Comment